Home Politics कांग्रेस ने बनाया सलाहकार परिषद्, इन नेताओं को किया शामिल…

कांग्रेस ने बनाया सलाहकार परिषद्, इन नेताओं को किया शामिल…

78
0
सलाहकार परिषद्

दा एंगल।

लखनऊ।

कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी अपने भाई राहुल गांधी के मुकाबले राजनीती में ज्यादा सक्रिय है। प्रियंका ने जबसे उत्तर प्रदेश के उपाध्यक्ष का पदभार संभाला है तभी से वे कांग्रेस पार्टी के लिए हमेशा खड़ी नजर आयी है। UP के जितने भी नेता है जिनका प्रदेश में नाम है , जो पार्टी के लिए और पार्टी के साथ हमेशा खड़े नजर आए है। उन सभी को कांग्रेस कमेटी के सलाहकार परिषद् का सदस्य बनाया गया है। इनमे से ज्यादातर नेता वो है जो मनमोहन सिंह के कार्यकाल में केंद्रीय मंत्री थे, या विधायक या फिर सांसद थे। इन सभी को अब सालहकार परिषद् में एहम पद दिया गया है।

सलाहकार परिषद् में ये है शामिल-

मनमोहन सिंह के कार्यकाल में जो केंद्रीय मंत्री इस सलाहकार परिषद् में शामिल है वो है, सलमान खुर्शीद, राशिद अल्वी, मोहसिन किदवई, पीएल पुनिया और आरपीएन सिंह। इसके अलावा इस लिस्ट में कई सांसद और विधायक भी शामिल है। एक विधानसभा से कई बार जीतने वाले प्रमोद तिवारी भी शामिल है। कुल मिलाकर इस सलाहकार परिषद् में 18 नेता है।

बचे हुए नेता संभालेंगे प्रदेश का काम

उत्तरप्रदेश के बाकी बचे हुए नेताओ को इस सलाहकार परिषद् में नहीं रखा गया है क्योकि उन्हें प्रदेश की रणनीति बनाने का काम सौंपा गया है।वे प्रदेश में कांग्रेस के लिए काम करेंगे और पार्टी को आगे बढ़ाने का काम करेंगे । जो बचे हुए नेता है उनमे पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद, राजीव शुक्ला, प्रदीप जैन ,आदित्य राज, किशोर सिंह, आरके चौधरी, इमरान मसूद, राजाराम पाल और बृजलाल खाबरी शामिल हैं। UP में पार्टी और वहा की रणनीति का काम इन सब की जिम्मेदारी होगी।

उत्तरप्रदेश में कांग्रेस को भाजपा के सामने लड़ना है तो उसे हर वो काम करना होगा जिससे लोग पार्टी से और जुड़े और लोगो एक बार फिर कांग्रेस में विशवास कर सके। इसीलिए जिन 24 लोगों को सचिव बनाया गया है, इनमें से सभी लोग 35 से 40 साल तक कि उम्र के नौजवान और आंदोलनकारी नेता हैं। महासचिव और उपाध्यक्ष भी किसी बड़े चर्चित चेहरे को नहीं बनाया गया है।आज के समय में इस बड़े टास्क को सिर्फ नौजवान ही अंजाम दे सकते हैं और वो जिन्हें फेमस होने की भूख हो। कांग्रेस के दिग्गज नेताओं से ये काम संभव नहीं दिख रहा था। इसलिए कांग्रेस ने सलाहकार परिषद् का गठन किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here