Home Business सिंगल यूज प्लास्टिक पर पूर्ण बैन नहीं लगाएगी सरकार

सिंगल यूज प्लास्टिक पर पूर्ण बैन नहीं लगाएगी सरकार

14
0

दा एंगल।
नई दिल्ली।

महात्मा गांधी की 150वीं जयंती से सिंगल यूज प्लास्टिक के उपयोग के प्रतिबन्ध की खबरें आ रही थी। इन खबरों के बीच अब खबर ये है की  सिंगल यूज प्लास्टिक पर सरकार ने पूरी तरह रोक न लगाकर फिलहाल इसके खिलाफ अभियान को जनजागरूकता तक ही सीमित रखा है। सरकार ने साफ किया है कि पीएम मोदी के स्वच्छ भारत मिशन का मकसद इसको बैन करना नहीं है। जल शक्ति मंत्रालय द्वारा संचालित ट्विटर हैंडल ‘स्वच्छ भारत’ पर सरकार ने कहा कि अभियान का मकसद सिंगल यूज प्लास्टिक के खिलाफ जागरूकता फैलाना है।

सिंगल यूज प्लास्टिक पर पूर्ण प्रतिबंध नहीं

जल शक्ति मंत्रालय द्वारा संचालित ट्विटर हैंडल ‘स्वच्छ भारत’ पर सरकार ने कहा कि अभियान का मकसद सिंगल यूज प्लास्टिक के खिलाफ जागरूकता फैलाना है। सरकार इसके उपयोग से पर्यावरण को होने वाले नुक्सान से लोगों को जागरूक करना चाहती है। सरकार इस पर पूर्ण प्रतिबंध नहीं लगाने जा रही है। बताया जा रहा है कि सरकार इसके इस्तेमाल नहीं करने के लिए लोगों को जागरूक करेगी लेकिन उत्पादन पर रोक के लिए कोई नहीं कानून नहीं लाने जा रही है।

उत्पादन पर रोक से आर्थिक मंदी

इस प्लास्टिक पर पूर्ण रूप से प्रतिबन्ध नहीं लगाने का एक कारन आर्थिक मन्दी भी है। मन्दी के दौर में अगर प्लास्टिक के उत्पादन पर रोक लगा दी जाएगी तो इससे आर्थिक मन्दी पर गहरा प्रभाव पड़ेगा और हालात और बदतर हो सकते है। अभी कई सेक्टर ऐसे है जहा मन्दी के चलते लोगों को नौकरियां गवानी पड़ रही है। ऐसे में सरकार ने इन हालातों को ध्यान में रखते हुए इस पर पूर्ण रूप से प्रतिबन्ध नहीं लगाने का फैसला किया है। केंद्र सरकार ने 2 अक्टूबर से जिन 5 आइटमों पर रोक की बात कही थी उनमें कैरीबैग के अलावा प्लास्टिक और थर्मोकोल के कटलरी आइटम, पाउच, 200 मिली से छोटे बोतल, स्ट्रॉ भी थे। दुकानदार इस बात को लेकर परेशान हैं कि अधिकारियों ने कोई कार्रवाई की तो उन्हें ही भुगतना पड़ेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here