Home National मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर फिर से अगली तारीख दे गए अजय माकन...

मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर फिर से अगली तारीख दे गए अजय माकन !

448
0
पीसीसी में मीडिया को संबोधित करते कांग्रेस प्रदेश प्रभारी अजय माकन

The Angle

जयपुर।

प्रदेश में मंत्रिमंडल विस्तार की अटकलें लगातार तेज होती जा रही हैं। इस बीच कांग्रेस प्रदेश प्रभारी Ajay Maken और संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल आज पीसीसी पहुंचे। यहां पार्टी के नेताओं और पदाधिकारियों ने उनका स्वागत किया। इसके बाद पीसीसी चीफ गोविंदसिंह डोटासरा की मौजूदगी में दोनों नेताओं ने पार्टी के विधायकों और नेताओं से अनौपचारिक चर्चा की।

लगातार बढ़ रही महंगाई को लेकर भी की नेताओं से चर्चा- माकन

वहीं बैठक के बाद प्रदेश प्रभारी अजय माकन ने मीडिया को संबोधित किया। उन्होंने बताया कि बैठक में मुख्य रूप से देश में लगातार बढ़ रही महंगाई को लेकर चर्चा की गई कि किस तरह से इसका असर आमजन पर पड़ रहा है। इसी के तहत कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं ने पिछले दिनों पेट्रोल पंपों पर जाकर और साइकिल यात्रा निकालकर महंगाई को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ रोष जताया था। इसके साथ ही बैठक में पेगासस जासूसी मुद्दे पर चर्चा की गई कि जिस तरह केंद्र की मोदी सरकार देश में लोगों की जासूसी करवा रही है, वो निंदनीय है।

जनता की मदद करने की बजाय लोगों की जासूसी पर पैसा खर्च कर रही मोदी सरकार- माकन

माकन ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि आप देखें कि एक प्रकार से हमारे देश के अंदर देश की जनता महंगाई से त्रस्त है, कोरोना के अंदर लोगों के काम-धंधे बंद हो गए, सरकार लोगों के ऊपर पैसा खर्च करने की जगह जासूसी के ऊपर पैसा खर्च कर रही है। जासूसी भी किसकी, सुप्रीम कोर्ट के जजों की, ज्यूडीशियरी की, जासूसी भी किसकी, जर्नलिस्ट्स की, जासूसी भी किसकी जो हमारे नेता प्रमुख तौर पर विपक्ष की आवाज राहुल गांधी जी उठाते हैं, उनकी।

इस प्रकार से जो केंद्र सरकार अपने रिसोर्सेज अपने धन-संसाधन का दुरुपयोग कर रही है, उसको कांग्रेस पार्टी हमेशा से कड़े शब्दों के अंदर निंदा करती है। ये लोकतंत्र में कभी भी ऐसा नहीं होता कि लोकंत्र के अंदर प्रमुख विपक्षी पार्टी के सबसे प्रमुख नेता उसके आप फोन को और उसके सारी की सारी चीजों को टैप कर रहे हैं। तो किस प्रकार के हमारे देश के अंदर शासन किस प्रकार से हमारे देश का चल रहा है, ये इस सबको बताता है और पैसा केंद्र सरकार संसाधन इनपर खर्च कर रही है, जबकि देश को देश की जनता को देने की जरूरत है।

आलाकमान का फैसला सभी को होगा मंजूर- अजय माकन

मंत्रिमंडल विस्तार के लिए क्या फॉर्मूला होगा, इसके जवाब में Ajay Maken ने कहा कि जो मंत्रिमंडल की चर्चा, हमारे जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्षों की चर्चा, हमारे बोर्ड कॉर्पोरेशन के अंदर जो पॉलिटिकल नियुक्तियों की चर्चा है, ये सब चीजों की चर्चा हम लोग लोगों से कर रहे हैं। मैं सिर्फ एक बात कहना चाहता हूं कि सब लोगों ने एक स्वर में ये कहा है कि जो केंद्रीय आलाकमान तय करेगा, वो हमें मंजूर है, सब लोगों ने एक स्वर में कहा है और हम लोग बहुत जल्द इन सब चीजों के ऊपर हम लोग फाइनल फैसला करेंगे क्योंकि कहीं पर भी कोई अब हम लोगों को कोई किसी भी प्रकार से विरोधाभास नजर नहीं आता।

सब लोग एक स्वर से और एकमत हैं इसके अंदर और बहुत जल्द हम लोग आपको इसके बीच में, इसके बारे में हम बताएंगे। हालांकि इस बार उन्होंने साफ कहा कि हम ऐसे किसी भी मसले को तारीख में बांधना नहीं चाहते।

क्या भाजपा अपने ही शासन पर उठा रही सवाल ?

वहीं आरएएस इंटरव्यू में पीसीसी चीफ के रिश्तेदारों को समान अंक मिलने पर Ajay Maken ने विपक्षी भाजपा को घेरा। उन्होंने कहा कि ये बड़े अजीब और दुःख की बात है कि डोटासरा जी के बेटे और इनकी पुत्रवधू दोनों के दोनों के इंटरव्यू उस वक्त हुए जब भाजपा का शासन था और भाजपा के शासन के दौरान उन्होंने बेहतरीन अंक पाए। उन्होंने पूछा कि क्या भाजपा के लोग अपने ही शासन के खिलाफ आरोप लगा रहे हैं ? और ये कोई आज की बात नहीं है, ये एक वर्ष पुराने भी उस वक्त भी समाचार पत्रों में और उस वक्त भी सोशल मीडिया में आया था, तो अब क्यों कर रहे हैं ?

सिर्फ इस वजह से कि डोटासरा जी आक्रामक तौर पर निंबाराम और आरएसएस के खिलाफ में यहां पर मांग कर रहे हैं तो इनके ऊपर इसी वजह से दबाव डालने के लिए कर रहे हैं और ये भाजपा के मंसूबे कभी भी हम लोग कामयाब नहीं होने देंगे और हमारे नेताओं के ऊपर उल्टा-सीधा आरोप लगाना बंद करें।

28-29 जुलाई को फिर से प्रदेश दौरे पर जयपुर आएंगे माकन

प्रदेश में जल्द ही जिला और ब्लॉक स्तर पर भी नियुक्तियां की जाएंगी। इस बारे में प्रदेश प्रभारी Ajay Maken ने बताया कि 28 और 29 जुलाई को वे फिर से राजस्थान दौरे पर रहेंगे। इस दौरान वे पार्टी के सभी विधायकों से व्यक्तिगत रूप से बात करके जिला और ब्लॉक के बारे में उनसे मंत्रणा करेंगे, क्योंकि पार्टी चाहती है कि जिला और ब्लॉक का जो फैसला लिया जाए, उसके बारे में विधायकों को जानकारी रहे।

Previous articleराजस्थान में मंत्रिमण्डल विस्तार को लेकर मंथन तेज, पीसीसी में हो रही अहम बैठक
Next articleभारत-श्रीलंका के बीच पहला टी-20 मैच आज, जीत से शुरुआत करना चाहेगी टीम इंडिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here