Home National गहलोत सरकार की बड़ी पहल, आधी आबादी के लिए चलाई जाएगी उड़ान...

गहलोत सरकार की बड़ी पहल, आधी आबादी के लिए चलाई जाएगी उड़ान योजना

36
0

The Angle
जयपुर।
प्रदेश की महिलाओं के लिए राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एक बड़ी पहल की है। आधी आबादी के लिए प्रदेश में उड़ान योजना चलाई जाएगी। इस योजना के तहत मातृ शक्ति को मासिक धर्म में स्वच्छता के कारण होने वाली समस्याओं से निजात दिलाने के लिए मुफ्त सैनिटरी नैपकिन वितरित किए जाएंगे।

क्या है उड़ान योजना

19 नवम्बर को देश की प्रथम महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का जन्मदिवस है उसी दिन से इस योजना की शुरुआत की जाएगी। उड़ान योजना के तहत प्रदेश की सभी महिलाओं को चरणबद्ध रूप से सेनेटरी नैपकिन का निशुल्क वितरण किया जाएगा। इसके लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 200 करोड़ रुपए के बजट प्रावधान के प्रस्ताव का अनुमोदन भी कर दिया है।

क्या फायदा होगा

माहवारी में जहां महिलाओं को असहनीय दर्द सहना पड़ता है वहीं, उस दौरान अगर स्वच्छता का ठीक से ध्यान न दिया जाए तो गंभीर बीमारियां भी हो सकती हैं। महिलाएं इस बारे में खुलकर बात करने से झिझकती है और अपनी स्वच्छता जैसे मामले को उठाने में संकोच करती हैं। आज भी कई महिलाएं माहवारी में कपड़े का इस्तेमाल करती हैं जिस वजह से उन्हें कई बार इंफेक्शन की भी शिकायत हो जाती है। सही समय पर अगर उन्हें चिकित्सा सुविधा न मिले तो इसके गंभीर परिणाम भी भुगतने पड़ सकते हैं।

उड़ान योजना के उद्देश्य

. स्वच्छता के बारे में जागरूकता फैलाना और महिलाओं में सेनेटरी नैपकिन वितरण को बढ़ावा देना।
. ग्रामीण क्षेत्रों में किशोरियों को उच्च गुणवत्ता वाले सैनिटरी नैपकिन की पहुंच और उपयोग में वृद्धि करना।
. पर्यावरण के अनुकूल तरीके से सैनिटरी पैड का सुरक्षित निपटान सुनिश्चित करना।
. सैनिटरी नैपकिन का उपयोग करके महिलाओं को विभिन्न मासिक धर्म स्वच्छता संबंधी बीमारियों से बचाया जा सकता है।

क्यों जरूरत पड़ी

यूनिसेफ और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ अर्बन अफेयर्स के अध्ययन (2020) के रिसर्च से पता चलता है कि शहरी क्षेत्रों में गरीब घरों की लड़कियां मासिक धर्म के दौरान जरूरत की उचित स्वच्छता सुविधाओं से वंचित हैं, जिसमें हर दो में से एक लड़की अपने मासिक धर्म के दौरान पैसे की कमी की वजह से सैनिटरी नैपकिन का इस्तेमाल नहीं कर पाती। इसलिए उन्हें घर में ही उपस्थित गंदे कपड़ो का उपयोग करना पड़ता है।

महिलाओं एवं बालिकाओं को परेशानी से मिलेगी निजात

महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री ममता भूपेश का कहना है कि मुख्यमंत्री के विजन के अनुसार बालिकाओं,छात्राओं एवं महिलाओं को माहवारी के दौरान साधारण कपड़े का उपयोग करने से होने वाली परेशानियों से बचाने के लिये उड़ान योजना के तहत निःशुल्क सैनेट्री पैड वितरित किये जाएंगे।

Previous articleपायल घोष का दावा, एसिड अटैक से बची कहा- ‘मामूली चोट लगी, लेकिन ट्रॉमा में’
Next articleWhat ‘Chintan’ !! Ashok Gehlot is a big ‘chinta’ for BJP

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here