Home Crime प्रदेश की कानून व्यवस्था पर भाजपा ने फिर उठाए सवाल, सरकार पर...

प्रदेश की कानून व्यवस्था पर भाजपा ने फिर उठाए सवाल, सरकार पर लगाए आरोप

144
0
रामलाल शर्मा ने प्रदेश की कानून व्यवस्था को लेकर राज्य सरकार को घेरा

The Angle

जयपुर।

प्रदेश में लोगों से अनाचार की आए दिन घटनाएं सामने आ रही हैं। इससे भाजपा को बैठे-बिठाए राज्य सरकार को घेरने के लिए एक बड़ा मुद्दा मिल गया है। प्रदेश भाजपा के मुख्य प्रवक्ता और चौमूं से पार्टी विधायक रामलाल शर्मा ने हाल की कुछ घटनाओं को लेकर प्रदेश की सरकार पर फिर से हमला बोला है।

रामलाल बोले- उलटा नजर आ रहा आमजन में विश्वास, अपराधियों में खौफ का नारा

रामलाल शर्मा ने वीडियो जारी कर कहा कि राजस्थान के अंदर बिगड़ती हुई कानून व्यवस्था ऐसी कभी नहीं देखी जितनी वर्तमान के अंदर देखने को मिलती है। पुलिस का नारा है कि आमजन के अंदर विश्वास रहे और अपराधियों के अंदर डर रहे, लेकिन वर्तमान में ये स्लोगन उलटा ही दिखाई देता है। आमजन डरा हुआ है और अपराधी बेखौफ होकर अपराधों को अंजाम देने में लगे हुए हैं।

दो घटनाओं का जिक्र कर प्रदेश की कानून व्यवस्था पर उठाए सवाल

उन्होंने कानून व्यवस्था की धज्जियां उड़ाती दो घटनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि दो दिन के अंदर प्रदेश में जो घटनाएं घटित हुई हैं, वो हम सभी को शर्मसार करने वाली हैं। उन्होंने बताया कि जयपुर में विश्वकर्मा औद्योगिक क्षेत्र में एक व्यक्ति को उठाकर ले जाना और उसको लाठियों-सरियों से मार-मार कर अधमरा कर देना और फिर उपचार के दौरान उसकी मौत होना। इसी तरह झुंझुनूं में एक शिक्षक द्वारा एक नाबालिग के साथ दुष्कर्म करना, प्रदेश के अंदर एक नहीं, अनेकों घटनाएं इस प्रकार की हैं, पीड़िता को दुष्कर्म के बाद कुएं के अंदर डालना, नागौर के अंदर एक व्यक्ति को सरियों से पीटना और उसके बाद उसकी हत्या करना, इनसे पता चलता है कि संगीन अपराध करने को लेकर भी अपराधी पूरी तरह बेखौफ हैं।

अपराधियों में खौफ पैदा कर पुलिस का डर पैदा करे सरकार- शर्मा

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने राज्य सरकार को इसलिए जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि प्रदेश की सरकार उसके बावजूद भी मूक दर्शक बनकर सिर्फ राजनीतिक वक्तव्य जारी करने का काम करती है। उन्होंने मांग करते हुए कहा कि सरकार अपराधियों के अंदर खौफ पैदा करे, पुलिस का डर पैदा करे, तभी जाकर इनके ऊपर अंकुश लगाया जा सकता है, नहीं तो हालात दिन-प्रतिदिन बद से बदतर होते नजर आ रहे हैं।

Previous articleसीडब्ल्यूसी की बैठक में अध्यक्ष सोनिया गांधी ने किया बड़ा ऐलान, केंद्र सरकार को घेरा
Next articleराहतः आठ महीने बाद देश में आए कोरोना के सबसे कम मामले

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here