Home International Health क्या अखबार से भी फैल सकता है कोरोना वायरस, ये है एक्सपर्ट्स...

क्या अखबार से भी फैल सकता है कोरोना वायरस, ये है एक्सपर्ट्स की राय !

56
0

द एंगल।

नई दिल्ली।

कोरोना का प्रकोप जहां पूरी दुनिया में इन दिनों फैला हुआ है वहीं मीडियाकर्मी इन विपरीत परिस्थितियों में भी अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए जनसामान्य तक आवश्यक सूचनाएं पहुंचा रहे हैं। इसकी सराहना खुद प्रधानमंत्री मोदी ने भी कोरोना वायरस से बचाव को लेकर दिए अपने संबोधनों के दौरान की है। लेकिन इन सबके बीच सोशल मीडिया पर एक अफवाह फैलाई जा रही है। इन अफवाहों के मुताबिक रोज आपको देश-दुनिया की खबरों से बताने वाला आपका अखबार भी आपको कोरोना का मरीज बना सकता है। जबकि इस बात का कोई सबूत नहीं है कि अखबार के ज़रिए कोरोना वायरस का प्रसार हो सकता है।

अखबार से संक्रमण फैलने का मामला नहीं आया सामने

विश्व के शीर्ष डॉक्टरों और वैज्ञानिकों के अनुसार, अब तक एक भी ऐसी घटना सामने नहीं आयी है, जिससे यह पता चलता हो कि अखबारों, पत्रिकाओं, चिट्ठियों से कोविड-19 का संक्रमण फैलता है। हाल ही में इस संबंध में इंटरनेशनल न्यूज मीडिया एसोसिएशन ने विश्व स्वास्थ्य संगठन जैसे कई संस्थानों से इस संबंध में सवाल किया कि क्या अखबारों या पत्रिकाओं से कोरोना वायरस का संक्रमण फैलता है।

शोध क्या कहते हैं इस बारे में

इस बारे में विश्व स्वास्थ्य संगठन का कहना है कि इस बात की संभावना बहुत कम है कि कोई संक्रमित व्यक्ति किसी वस्तु को संक्रमित कर सकता है। इसलिए बाहर से आए पैकेट को लेने में कोई खतरा नहीं है। जिन इलाकों से कोविड-19 के मामले सामने आए हैं, वहां भी पैकेट रिसीव करना सुरक्षित है। हार्टफोर्ड हेल्थकेयर ने कहा है कि अपने घर आए डिलीवरी को लेने से डरें नहीं। कोरोना संक्रमण लंबे समय तक किसी वस्तु पर जिंदा नहीं रहता है।

संक्रमण रूखी सतह पर हो जाता है खत्म

वाशिंगटन पोस्ट में जोएल अचेंबक ने लिखा कि निर्जीव सतह पर वायरस धीरे-धीरे एक संक्रामक एजेंट बनने की क्षमता खो देता है। पराबैंगनी विकिरण के संपर्क में आने पर इसकी संक्रामक क्षमता कम हो सकती है। सतह पर छींक की बूंदें हजारों वायरस को जमा कर सकती है और इनमें से कुछ वायरस कई दिनों तक सक्रिय बने रह सकते हैं। इसके बावजूद छींक के संपर्क में आनेवाले व्यक्ति के संक्रमित होने की संभावना समय के साथ कम हो जाती है, क्योंकि अधिकांश संक्रमण बड़ी संख्या में वायरस के एकत्रित होने के कारण फैलता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here