Home International Health मुम्बई के रास्ते भारत में घुसा कोरोना वायरस !

मुम्बई के रास्ते भारत में घुसा कोरोना वायरस !

61
0

The Angle

मु्म्बई।

चीन में कोरोना वायरस का कहर लगातार जारी है। घातक कोरोना वायरस से अब तक 25 लोगों की जान जा चुकी है और करीब 800 से अधिक लोग इसकी चपेट में हैं। कोरोना वायरस की भयावहता को देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने चीन में तो इमरजेंसी की घोषणा कर दी है, लेकिन अभी तक अंतर्राष्ट्रीय सार्वजनिक स्वास्थ्य आपात स्थिति की घोषणा नहीं की है। WHO ने कहा है कि इस वायरस को वैश्विक स्वास्थ्य आपातकाल (World Health Emergency) घोषित करना फिलहाल जल्दबाज़ी होगी। वहीं घातक कोरोना वायरस के प्रसार को देखते हुए चीन के कई शहरों में आवाजाही पूरी तरह रोक दी गयी है। कुछ शहरों मसलन वुहान को पूरी तरह सील कर दिया गया है। अगले आदेश तक इस शहर में आवाजाही पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है।

 

कोरोना वायरस नहीं बना है वैश्विक स्वास्थ्य आपातकाल

WHO के प्रमुख टेडरोस एडहानोम घेब्रेयासस ने विषाणु को लेकर जिनेवा में 2 दिवसीय आपात बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘मैं आज अंतर्राष्ट्रीय सार्वजनिक स्वास्थ्य आपात स्थिति नहीं घोषित कर रहा हूं। उन्होंने कहा, ‘चीन में यह आपात स्थिति की तरह है, लेकिन यह वैश्विक स्वास्थ्य आपातकाल नहीं बना है।’

मुम्बई में सामने आए कोरोना वायरस के 2 संदिग्ध

उधर आशंका जताई जा रही है कि शायद भारत में भी कोरोना वायरस ने दस्तक दे दी है। दरअसल मुंबई में कोरोना वायरस के 2 संदिग्ध मामले सामने आए हैं। दोनों संदिग्धों को कस्तूरबा हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। फिलहाल, उनका स्वास्थ्य परीक्षण करवाया जा रहा है।

 

दोनों मरीजों का हल्के सर्दी-जुकाम के लक्षण

जानकारी के मुताबिक चीन से लौटे दो लोगों के कोरोना वायरस (Corona Virus) से संक्रमित होने की आशंका जताई जा रही है। दोनों मरीजों को कस्तूरबा अस्पताल में अलग वार्ड में भर्ती किया गया है। कस्तूरबा अस्पताल के स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक दोनों मरीजों का हल्के सर्दी-जुकाम के लक्षण हैं। फिलहाल अस्पताल में भर्ती मरीजों को इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है।

 

कोरोना वायरस संदिग्धों को रखा गया है अलग वार्ड में

यही नहीं कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर एहतियात बरतते हुए बीएमसी ने चिंचपोकली के कस्तूरबा अस्पताल को खास निर्देश दिए हैं। मुम्बई चिंचपोकली के कस्तूरबा अस्पताल में कोरोना वायरस के मरीजों के लिए अलग वार्ड गया है, ताकि उन्हें अन्य मरीजों के संपर्क से दूर रखा जा सके और हर संभव इलाज किया जा सके। बताया जा रहा है कि कोरोना वायरस के मामलों से जुड़े सभी चिकित्सकों को हिदायत दी है, कि अगर इस तरह के लक्षण वाले लोग मुम्बई अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे पर नज़र आते हैं, तो बिना देरी किए इन्हें वार्ड में भेज दें।

 

विदेश मंत्रालय पहले ही जारी कर चुका हेल्थ एडवाइजरी

गौरतलब है कि भारतीय विदेश मंत्रालय कोरोना वायरस की गंभीरता को देखते हुए पहले ही स्वास्थ्य एडवाइजरी जारी कर चुका है। इसके मुताबिक सभी देशवासियों को चीन की यात्रा नहीं करने की सलाह दी गई है। इसके अलावा जो लोग चीन से वापस लौट रहे हैं उन्हें भी स्वास्थ्य परीक्षण करवाने को कहा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here