Home Sports व्हेयर अबाउट नहीं देने पर क्रिकेटरों पर चला नाडा का डंडा, 41...

व्हेयर अबाउट नहीं देने पर क्रिकेटरों पर चला नाडा का डंडा, 41 खिलाडियों को भेजा नोटिस

15
0

दा एंगल।
नई दिल्ली।
राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी ने कोविड-19 महामारी के कारण लगे देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान अपने रहने के स्थान की जानकारी का खुलासा करने में असफल होने के लिए नोटिस भेजा। लॉकडाउन चरण के दौरान कोई नमूना नहीं लिया जा सका लेकिन नाडा ने दिशानिर्देशों का पालन करते हुए उन सभी खिलाड़ियों को नोटिस भेजा जो तीन महीने पहले अपने रहने के स्थान की जानकारी जमा नहीं कर सके। नाडा ने पहली बार क्रिकेटरों पर सख्ती का डंडा चलाते हुए नेशनल रजिस्टर्ड टेस्टिंग पूल में शामिल देश के पांच नामी क्रिकेटरों को नोटिस भेज दिया है।

नाडा ने आरटीपी में शामिल चेतेश्वर पुजारा, रवींद्र जडेजा, केएल राहुल, स्मृति मंधाना और दीप्ति शर्मा को यह नोटिस अप्रैल से जून माह के क्वार्टर दो का व्हेयर अबाउट नहीं भरने के लिए दिया है। क्रिकेटरों को नोटिस का जवाब पांच दिनों के अंदर देना था, लेकिन ये उससे पहले ही हरकत में आ गए और नाडा को जवाब भेज दिया। नाडा ने आठ जून को आरटीपी में शामिल कुल 110 क्रिकेटरों समेत 41 खिलाडियों को व्हेयर अबाउट नहीं भेजने का नोटिस भेजा है। व्हेयर अबाउट फेल के एक साल में तीन नोटिस जारी होने पर खिलाड़ी दो साल तक के लिए प्रतिबंधित हो सकता है।

नाडा का क्रिकेटरों पर सख्त रवैया

एंटी डोपिंग के लिए नाडा के संरक्षण में आए बीसीसीआई को 10 माह का समय हो चुका है, लेकिन यह पहली बार है जब नाडा ने क्रिकेटरों पर सख्त रवैया अपनाते हुए उन्हें नोटिस भेजा है। हालांकि लॉकडाउन में किसी तरह की टेस्टिंग नहीं चल रही है। बावजूद इसके आरटीपी में शामिल खिलाड़ियों को अपना व्हेयर अबाउट नियमित रूप से भरना पड़ता है। साल में चार बार खिलाड़ियों को व्हेयर अबाउट भरने पड़ते हैं। साल में तीन बार खिलाड़ी को नोटिस जारी होने पर उसका मिस टेस्ट मान लिया जाता है। उसके बाद खिलाड़ी को अपनी बेगुनाही साबित करने के लिए हियरिंग पैनल के समक्ष पेश होना पड़ता है।

व्हेअर अबाउट नहीं देने पर प्रतिबंधित हुए थे रसेल

व्हेयर अबाउट नहीं देने के लिए वेस्टइंडीज के क्रिकेटर आंद्रे रसेल एक साल के लिए प्रतिबंधित हो चुके हैं। उन्होंने साल 2015 में तीन बार अपना व्हेयर अबाउट नहीं दिया। उन पर 31 जनवरी 2017 से 30 जनवरी 2018 तक का प्रतिबंध लगा। यही कारण है कि इस नोटिस की गंभीरता समझते हुए क्रिकेटरों ने तत्काल नाडा को जवाब दिया।

सिर्फ क्रिकेटर ही इस लापरवाही में शामिल नहीं है बल्कि डोपिंग के झूठे मामले में दो साल तक परेशान रहने वाली वेटलिफ्टर संजीता चानू ने नाडा को अपना व्हेयर अबाउट नहीं भेजा है। नाडा ने उन्हें और कॉमनवेल्थ गेम्स चैंपियन लिफ्टर आरवी राहुल को भी नोटिस भेजा है। जिन 41 खिलाडियों को नोटिस भेजे गए हैं। उनमें आठ नामी एथलीट भी शामिल हैं। इनमें से ज्यादादार एनआईएस पटियाला में कैंप में शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here