Home International Health कोरोना के नए वेरिएंट पर दिल्ली सीएम ने फिर जताई चिंता, स्वास्थ्य...

कोरोना के नए वेरिएंट पर दिल्ली सीएम ने फिर जताई चिंता, स्वास्थ्य मंत्री बोले- सरकार गंभीर

88
0

The Angle

नई दिल्ली।

कोरोना के नए वेरिएंट ऑमिक्रॉन को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध लगाने में देरी पर सवाल उठाया है। इससे पहले केजरीवाल ने रविवार को ट्वीट कर प्रधानमंत्री मोदी से ऑमिक्रॉन से प्रभावित देशों से भारत आने वाली उड़ानों को तत्काल प्रभाव से रोकने का आग्रह किया था।

अरविंद केजरीवाल ने की मांग- अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर तुरंत लगे रोक

केजरीवाल ने कहा कि कई देशों ने ऑमिक्रॉन प्रभावित देशों से उड़ानें रोक दीं हैं। हम इसमें देरी क्यों कर रहे हैं ? हमने पहली लहर में भी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को रोकने में देरी की थी। अधिकांश उड़ानें दिल्ली में उतरती हैं। कृपया उड़ानें तुरंत रोक दें। हमें ऑमिक्रॉन को भारत में प्रवेश करने से रोकने के लिए हर संभव प्रयास करना चाहिए। मैं आपसे तत्काल प्रभाव से इन क्षेत्रों से उड़ानें बंद करने का आग्रह करता हूं। इस संबंध में कोई भी देरी हानिकारक साबित हो सकती है।

दिल्ली में कोरोना के नए वेरिएंट को लेकर दहशत

गौरतलब है कि केंद्र ने पिछले गुरुवार को सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को दक्षिण अफ्रीका, हांगकांग और बोत्सवाना से आने या जाने वाले सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की जांच और परीक्षण करने के लिए कहा था। दिल्ली में कोरोना के नए वेरिएंट ऑमिक्रॉन की आहट से दहशत है। इसको लेकर आगमन से पहले जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने सदन में दिया जवाब- अभी तक नए वेरिएंट का देश में नहीं मिला कोई मरीज

बता दें केंद्र की ओर से कोरोना के नए वेरिएंट पर आज संसद में भी चिंता जताई गई थी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने सदन में बताया कि फिलहाल देश में कोरोना के नए वेरिएंट ऑमिक्रॉन का कोई मरीज नहीं मिला है। साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार नए वेरिएंट को लेकर गंभीर है। गौरतलब है कि स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक कोरोना का नया वेरिएंट ऑमिक्रॉन डेल्टा की तुलना में ज्यादा संक्रामक और घातक है। इसे देखते हुए एहतियात के तौर पर गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए नई गाइडलाइन्स जारी की हैं। इनके मुताबिक विदेश से आने वाले सभी यात्रियों की अनिवार्य स्क्रीनिंग और टेस्टिंग करने को कहा गया है। वहीं जिन देशों में अभी तक कोरोना का नया वेरिएंट पाया गया है, वहां से आए यात्रियों को कोरोना की रिपोर्ट नेगेटिव आने तक क्वारंटाइन रहना होगा।

Previous articleसीएम के सलाहकारों के मसले पर सिर्फ राजनीति करना चाहती है भाजपा क्योंकि सरकार के खिलाफ मुद्दा ही नहीं
Next articleफिर जयपुर आए अजय माकन, इस बार कार्यकर्ताओं को मिल सकता है मेहनत का ‘फल’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here