Home Crime पूछताछ में खुल रहे DSP दविंदर सिंह के नए राज, घर में...

पूछताछ में खुल रहे DSP दविंदर सिंह के नए राज, घर में छुपा रखे थे आतंकी

63
0
दविंदर

द एंगल।

श्रीनगर।

जम्मू कश्मीर में आतंकियों के साथ पकड़े गए DSP दविंदर सिंह को लेकर रोज नए खुलासे हो रहे है। पुलिस और इंटेलिजेंस अधिकारी उनसे पूछताछ कर रहे हैं। इस बीच पता चला है कि दविंदर सिंह ने आतंकियों को अपने ही घर में पनाह दे रखी थी।

DSP दविंदर सिंह ने आतंकियों को घर में दी पनाह –

जांच अधिकारियों ने घटना की कड़ियों को जोड़ते हुए कहा कि इरफान नाम का एक वकील प्रतिबंधित हिजबुल मुजाहिदीन के स्वयंभू जिला कमांडर नवीद बाबा और अल्ताफ को शुक्रवार को अधिकारी के घर लेकर गया था। पुलिस के अनुसार इरफान आतंकी समूहों के लिए काम करता था।

दविंदर सिंह श्रीनगर के इंदिरानगर इलाके में एक आलीशान घर बनवा रहा था। ये इलाका श्रीनगर का सबसे सुरक्षित क्षेत्र माना जाता है, क्योंकि इसके नजदीक ही आर्मी बेस है। दविंदर का ये घर 2017 से तैयार हो रहा है। इस घर की दीवार 15 कॉर्प्स के हेडक्वार्टर्स से लगी हुई है। दविंदर फिलहाल घर बादामी बाग छावनी इलाके में सेना की 16वीं कोर के मुख्यालय के पास है। पुलिस ने दविंदर सिंह के घर पर छापेमारी के दौरान एक AK-47 राइफल और 2 पिस्टल भी बरामद की है। अधिकारियों ने सोमवार को ये जानकारी दी।

गाड़ी में आतंकियों के साथ पकड़े गए थे DSP –

जम्मू-श्रीनगर हाइवे पर मीर बाजार में जब दविंदर सिंह को पकड़ा गया था, तब वो हिजबुल मुजाहिदीन आतंकियों को कश्मीर से चंडीगढ़ ले जा रहा था। अधिकारियों ने बताया कि इन आतंकियों ने शुक्रवार को दविंदर के घर पर ही डिनर किया और रात वहीं बिताई। इन आतंकियों की पहचान शीर्ष हिजबुल कमांडर नवीद बाबू और उसके दो साथी इरफान और अल्ताफ के तौर पर हुई है। इन आतंकियों को कश्मीर से सुरक्षित बाहर निकलवाने के लिए सिंह ने रविवार से गुरुवार तक छुट्टी के लिए आवेदन किया था।

अधिकारियों ने बताया कि DSP सिंह तीनों आतंकियों को सादे कपड़े में शनिवार सुबह करीब 10 बजे घर से निकले थे। पुलिस ने श्रीनगर से लगभग 60 किलोमीटर दूर उनकी कार को रोका था। अधिकारियों ने बताया कि गड़बड़ी कर फंस जाने के बाद दविंदर सिंह पुलिसवालों के सवालों का गोलमोल जवाब दे रहे थे, जिसके बाद उन्हें आतंकियों के साथ गिरफ्तार कर लिया गया और बाद में उनके घर की तलाशी ली गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here