Home International ईरान की सरकार के खिलाफ उग्र प्रदर्शन

ईरान की सरकार के खिलाफ उग्र प्रदर्शन

158
0
TOPSHOT - A man holds a picture of Iran's supreme leader Ayatollah Ali Khamenei with Iranian Revolutionary Guards Major General Qasem Soleimani (L) during a demonstration in Tehran on January 3, 2020 against the killing of the top commander in a US strike in Baghdad. - Iran warned of "severe revenge" and said arch-enemy the United States bore responsiblity for the consequences after killing one of its top commanders, Qasem Soleimani, in a strike outside Baghdad airport. (Photo by ATTA KENARE / AFP) (Photo by ATTA KENARE/AFP via Getty Images)

The Angle

जयपुर।

ईरान की सरकार ने आखिरकार अपनी गलती से ही यूक्रेन के विमान को मार गिराने की बात स्वीकार की। और यह बात ईरान के लिए भारी पड़ गई है। इसके बाद से ही देशभर में प्रदर्शनों का दौर जारी है और रविवार को भी कई हिस्से में प्रदर्शन हुए। प्रदर्शनकारी खुले तौर पर शीर्ष नेतृत्व के खिलाफ नाराज़गी जता रहे हैं और उनको हटाए जाने की मांग कर रहे हैं। लगातार हो रहे विरोध को देखते हुए ईरान की इस्लामिक रिपब्लिक लीडरशिप के ऊपर दबाव काफी बढ़ गया है। दरअसल हादसे के बाद लंबे समय तक ईरानी प्रशासन इस बात का दावा करता रहा था, कि तकनीकी खामी के कारण विमान क्रैश हुआ। लेकिन अंतर्राष्ट्रीय दबाव के चलते आखिरकार उनसे अपनी गलती स्वीकार कर ली।

ईरानी सरकार के खिलाफ तेज हुए प्रदर्शन

रविवार को बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी जुटे और ईरान की सरकार के खिलाफ नारे लगाए। तेहरान में एक यूनिवर्सिटी के बाहर जुटे प्रदर्शनकारियों ने कहा, ‘वो (ईरान की सत्ता पर काबिज) हमसे झूठ बोल रहे हैं कि अमेरिका हमारा दुश्मन है, जबकि हमारा दुश्मन तो यहीं है।’ प्रदर्शनकारियों का यह वीडियो ट्विटर पर भी शेयर किया गया था।

प्रदर्शनकारियों ने वीडियो सोशल मीडिया पर किए गए साझा

सोशल मीडिया पर प्रदर्शन से जुड़े कुछ और पोस्ट भी शेयर किए गए हैं। एक और पोस्ट में प्रदर्शनकारी किसी अन्य यूनिवर्सिटी के बाहर और कुछ प्रदर्शनकारियों का समूह तेहरान के आजादी स्क्वॉयर पर प्रदर्शन करते नजर आ रहे हैं। देश के दूसरे बड़े शहरों में भी प्रदर्शनकारियों ने प्रदर्शन किए।

ईरान के विमान हादसे पर बयान के बाद उग्र हुए प्रदर्शन

ईरान की राज्य प्रायोजित मीडिया में कई विश्वविद्यालयों में प्रदर्शन की खबरें प्रकाशित हुई थीं। शनिवार को ईरान की सरकार की ओर से आधिकारिक तौर पर स्वीकार किया गया, कि मानवीय भूल के कारण ईरानी बलों ने यूक्रेन के विमान को मार गिराया था। इसके बाद शनिवार को देश के कई हिस्से में प्रदर्शन और तेज हो गए। इस विमान में सवार सभी 176 लोगों की मौत हो गई थी। ईरान की मिसाइलों ने विमान पर उसी दिन निशाना साधा, जिस दिन अमेरिकी बेस पर हमले किए थे।

टेक ऑफ के तुरंत बाद दुर्घटनाग्रस्त हुआ था विमान

यूक्रेन इंटरनेशनल एयरलाइंस का विमान टेक ऑफ के कुछ ही मिनट बाद आग की लपटों में घिर गया था। बुधवार को हुए विमान हादसे में विमान में सवार सभी लोगों की मौत हो गई। विमान में सवार ज्यादातर लोगों के पास दोहरी नागरिकता थी। 57 यात्रियों के पास कनाडा का पासपोर्ट था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here