Home International फीफा महिला अंडर-17 वर्ल्डकप टला, फिर कब होगा पता नहीं

फीफा महिला अंडर-17 वर्ल्डकप टला, फिर कब होगा पता नहीं

125
0

द एंगल।

स्पोर्स्ट डेस्क।

कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण पूरी दुनिया में तबाही मची हुई है। हर ओर अजीब सा सन्नाटा छाया हुआ है। इस महामारी का असर खेलों पर भी पड़ा है और कई बड़ी लीग और टूर्नामेंट रद्द हो चुके हैं। जुलाई माह में आयोजित होने वाले टोक्यो ओलंपिक खेलों के बाद अब फीफा (FIFA) ने आगामी महिला अंडर-17 वर्ल्ड कप (FIFA U17 World Cup) को टालने का फैसला किया है। आपको बता दें कि भारत को 2 से 21 नवंबर के बीच इस बड़े टूर्नामेंट की मेजबानी करनी थी।

पांच शहरों में होने थे वर्ल्ड कप के मैच

भारत में अब तक कोरोना वायरस के 2900 से अधिक केस सामने आ चुके हैं। वहीं 62 लोगों की जानें भी इस वायरस के चलते जा चुकी है, जबकि दुनियाभर में अब तक 50 हजार से ज्यादा लोगों को यह वैश्विक महामारी अपना ग्रास बना चुकी है। इस वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए फीफा अंडर-17 वर्ल्ड कप को टालने का फैसला किया गया है। इस वर्ल्ड कप का आयोजन मुंबई, गुवाहाटी, अहमदाबाद, कोलकाता और भुवनेश्वर में होना था। फीफा अंडर-17 के अलावा, महिला फीफा अंडर20 वर्ल्ड कप को भी टाल दिया है। यह इसी साल अगस्त औऱ सितंबर के बीच पनामा और कोस्टारिका में खेला जाना था।

फिर से कब शुरू होंगी फुटबॉल प्रतियोगिताएं, फीफा भी नहीं जानता

फीफा (FIFA) प्रमुख जियानी इनफैनटिनो ने कहा, ‘कोई नहीं जानता कि पूरी दुनिया में फुटबॉल की प्रतियोगिताएं कब से शुरू होंगी।’ उन्होंने साथ ही कहा कि जब फुटबॉल खेल शुरू होगा और हालात सामान्य होंगे तो यह अलग होगा।

फीफा प्रमुख ने वीडियो लिंक के ज़रिए की अमेरिकी फुटबॉल प्रमुखों से बात

इनफैनटिनो ने कहा कि खतरनाक कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी के चलते फुटबॉल इतना अहम् नहीं रह गया है। उन्होंने गुरुवार को वीडियो लिंक के ज़रिए दक्षिण अमेरिकी फुटबॉल प्रमुखों से बातचीत में कहा, ‘हम सभी चाहते हैं कि कल ही फुटबाल का मैच हो पाता, लेकिन दुर्भाग्यपूर्ण है कि यह संभव नहीं है और आज दुनिया में कोई भी नहीं जानता कि हम पहले की तरह कब से खेलना शुरू करेंगे।’

इनफैनटिनो बोले- ‘पहली बार फुटबॉल सबसे अहम् चीज नहीं’

फीफा प्रमुख इनफैनटिनो ने कहा, ‘जब हम सामान्य माहौल में लौटेंगे तो हमारी दुनिया और हमारा खेल काफी अलग होगा। हमें सुनिश्चित करना होगा कि फुटबॉल बना रहे और यह फिर से आगे बढ़ सके।’ उन्होंने कहा, ‘पहली बार फुटबॉल सबसे अहम् चीज नहीं है। स्वास्थ्य सबसे अहम् है और जब तक इस बीमारी को हरा नहीं देते, ऐसा जारी रहेगा।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here