Home National जम्मू-कश्मीर के पूर्व राज्यपाल जगमोहन का हुआ निधन

जम्मू-कश्मीर के पूर्व राज्यपाल जगमोहन का हुआ निधन

31
0
जम्मू-कश्मीर के पूर्व राज्यपाल जगमोहन (फाइल इमेज)

The Angle

नई दिल्ली।

जम्मू-कश्मीर के पूर्व राज्यपाल जगमोहन का निधन हो गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनके निधन पर शोक जताते हुए इसे राष्ट्र के लिए अपूरणीय क्षति बताया। जगमोहन का पूरा नाम जगमोहन मल्होत्रा था। वे केंद्र के कई विभागों के मंत्री और कई राज्यों के राज्यपाल रहे। जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद के प्रति कड़क रुख अपनाने वाले जगमोहन को भारत सरकार द्वारा तीनों पद्म पुरस्कारों से नवाजा गया।

स्व. इंदिरा गांधी ने आपातकाल में सौंपी थी दिल्ली को सजाने-संवारने की जिम्मेदारी

जगमोहन मल्होत्रा का जन्म 1927 में हाफिजाबाद में हुआ, जो अब पाकिस्तान में है। पूर्व प्रधानमंत्री स्व. इंदिरा गांधी ने जब देश में आपातकाल की घोषणा की, तब जगमोहन को देश की राजधानी दिल्ली को सजाने-संवारने का काम सौंपा था। वे दिल्ली के उप-राज्यपाल भी नियुक्त किए गए। बाद में गोवा, दमन और दीव के राज्यपाल नियुक्त हुए।

दो बार बनाए गए जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल, आर्टिकल 370 को मानते थे अलगाव की वजह

हालांकि जगमोहन ने कई राज्यों के राज्यपाल के रूप में अपनी भूमिका निभाई, लेकिन खास तौर जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल के रूप में उनके कार्यकाल का जिक्र किया जाता है। यहां बतौर राज्यपाल जगमोहन की छवि एक सख्त प्रशासक की रही। 1990 में जब वे दूसरी बार जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल बनाए गए, तब वहां आतंकवाद जोर पकड़ रहा था और कश्मीरी पंडितों का पलायन शुरू हो चुका था। तब उन्होंने आतंकवाद के खिलाफ कड़े एक्शन का हुक्म दिया। वे आर्टिकल 370 को जम्मू-कश्मीर में अलगाववाद की बड़ी वजह मानते थे। उनका मानना था कि आर्टिकल 370 जम्मू-कश्मीर के संभ्रांत वर्ग को फायदा पहुंचाता है, जबकि इसकी आड़ में गरीब तबके का हक मारा जाता है।

जगमोहन के एक आदेश के विरोध में जम्मू-कश्मीर के तत्कालीन सीएम ने दिया था इस्तीफा

जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल के रूप में जगमोहन का पहला कार्यकाल 1984 से 1989 के बीच रहा था। 1989 में ही देश के तत्कालीन गृह मंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद की बेटी रूबिया सईद का आतंकवादियों ने अपहरण कर लिया था। तब उन्हें दोबारा वहां का गवर्नर बनाया गया। उन्होंने सुरक्षा बलों को घर-घर तलाशी लेने का आदेश दे दिया। इससे खफा तत्कालीन मुख्यमंत्री फारूख अब्दुल्ला ने पद से इस्तीफा दे दिया और राज्य में राष्ट्रपति शासन लग गया।

जगमोहन से मिलने उनके घर पहुंचे थे गृह मंत्री अमित शाह

जगमोहन आखिरी बार खबरों में तब आए जब केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने के बाद देश की जानी-मानी हस्तियों से समर्थन हासिल करने का अभियान छेड़ा। तब केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने उनके घर जाकर उनसे मुलाकात की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here