Home Sports न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में भारत की हालत पतली

न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में भारत की हालत पतली

84
0

दा एंगल।
स्पोर्ट्स डेस्क।
भारत और न्यूजीलैंड के बीच वेलिंटन में पहला टेस्ट मैच खेला जा रहा है। न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने टाॅस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का निर्णय लिया। भारत की टीम में विकेटकीपर रिदिमान शाह की ऋषभ पंत को जगह मिली है। वहीं न्यूजीलैंड की टीम से जेमीसन ने अपना टेस्ट डब्यू किया।

भारत और न्यूजीलैंड के बीच अभी तक का दौरान बराबरी का रहा है। जहां टीम इंडिया ने कीवी को टी-ट्वेंटी में धूल चटाई। वहीं कीवी टीम ने भी भारत का वनडे मैच में क्लीन स्वीप कर श्रृंखला को अपने नाम किया था। अब दोनों देषों के बीच दो टेस्ट मैच खेले जाएंगे। पहले टेस्ट मैच में न्यूजीलैंड ने टाॅस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का निर्णय लिया जो उसने के लिए सही साबित हुआ।

सस्ते में निपटी आधी टीम

इससे पहले, कीवी टीम के कप्तान केन विलियम्सन ने टॉस जीतकर भारत को पहले बल्लेबाजी के लिए बुलाया। वनडे में खराब फॉर्म से जूझ रहे पृथ्वी शॉ टेस्ट में इससे उबर नहीं पाए। मेजबान टीम के अनुभवी गेंदबाज टिम साउदी की आउटस्विंगर पर वह अपने पैर नहीं चला पाए और बोल्ड हो गए। शॉ का विकेट 16 के कुल स्कोर पर गिरा और यह पूरे रन उन्होंने ने ही बनाए। यहां से फिर पदार्पण कर रहे तेज गेंदबाज जेमिसन ने टीम को दो बड़ी सफलताएं दिलाईं। उन्होंने चेतेश्वर पुजारा और कप्तान विराट कोहली को सस्ते में आउट किया।

कप्तान कोहली निपटे सस्ते में

चेतेश्वर पुजारा ग्यारह और कप्तान विराट कोहली अपना 100वां टेस्ट खेल रहे राॅस टेलर के हाथों 2 रन बनाकर आउट हो गए। दूसरे ओपनर मयंक अग्रवाल भी ज्यादा कुछ नहीं कर पाए और 84 गेंद पर 34 रन बनाकर आउट हो गए। न्यूजीलैंड की तरफ से अपना टेस्ट डेब्यू कर रहे जेमीसन ने पांच में से 3 विकेट झटके जबकि टीम साउदी और ब्रांड ने एक-एक विकेट झटके हैं।

चायकाल के बाद लगातार बारिश की वजह से मैच दोबारा शुरू नहीं हो सका और पहले दिन का खेल खत्म करना पड़ा। वेलिंग्टन टेस्ट के पहले दिन सिर्फ 55 ओवर का ही खेल हो पाया। इस दौरान भारतीय टीम बैकफुट पर नजर आई। खेल समाप्त होने के समय भारत का स्कोर 5 विकेट खोकर 122 रन था। उपकप्तान अजिंक्य रहाणे 38 रन और ऋषभ पंत 10 रन बनाकर क्रीज में थे। भारत की टीम को आगे ले जाने की पूरी जिम्मेदारी उपकप्तान रहाणे पर आ टिकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here