Home National लोकसभा अध्यक्ष ओम बिडला ने दिल्ली में दिखाई ‘हर घर तिरंगा यात्रा’...

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिडला ने दिल्ली में दिखाई ‘हर घर तिरंगा यात्रा’ को हरी झंडी

62
0

द एंगल

नई दिल्ली.

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिडला ने आज राष्ट्रीय राजधानी में ‘हर घर तिरंगा यात्रा‘ को हरी झंडी दिखाई। इस मौके पर उन्होंने कहा, “हमारे पूर्वजों ने आजादी की लड़ाई लड़ी, संघर्ष किया और बलिदान दिया। आज हम आजादी का 75वां वर्ष मना रहे हैं इस संकल्प के साथ कि देश को आगे ले जाने में सभी समाज और लोगों का योगदान होगा।”

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिडला बूंदी में करेंगे “हर घर तिरंगा अभियान” का शुभारंभ

वही कल रविवार को सुबह लोकसभा के अध्यक्ष ओम बिडला बूंदी के खेल संकुल मैदान जाएंगे। यहां बिडला पौधारोपण कर आजादी के अमृत महोत्सव पर हर घर तिरंगा अभियान का शुभारंभ करेंगे। साथ ही निजी रिसोर्ट में सामाजिक कार्यकर्ताओ की बैठक लेंगे। बता दें कि आजादी के अमृत महोत्सव का जश्न और राष्ट्रीय ध्वज के प्रति सम्मान व्यक्त करने के लिए हर घर तिरंगा अभियान चलाया जा रहा है।

प्रधानमंत्री मोदी  ने “हर घर तिरंगा अभियान” में भाग लेने का किया आह्वान

आपको बता दें की आजादी कि 75वीं सालगिरह मनाने की तैयारियों में  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  ने सभी देशवासियों से हर घर तिरंगा अभियान  में भाग लेने का आह्वान किया है। यह राष्ट्रीय स्तर पर मनाए जा रहे आजादी का अमृत महोत्सव की एक कड़ी है। इस अभियान से जुड़े कार्यक्रम 2 अगस्त से शुरू हो चुके हैं। इसके तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2 अगस्त को लोगों से अपनी-अपनी सोशल मीडिया प्रोफाइल की फोटो को तिरंगे से बदलने का आह्वान किया। इस अभियान का मकसद लोगों को अपने घर पर तिरंगा फहराने के लिए प्रेरित करना है। इससे लोगों में देशभक्ति की भावना जागेगी और तिरंगे को लेकर उनमें और समझ आएगी।

इस अभियान के तहत ध्यान रखने वाली बातें

फ्लैग कोड ऑफ इंडिया 2022 के तहत राष्ट्रीय ध्वज को उल्टा या जमीन से छूते हुए और सिंगल फ्लैग पोल से नहीं फहरा सकते हैं। इस कड़ी में यह भी ध्यान रखना है कि तिरंगे की सुरक्षा में ऐसे कदम भी नहीं उठाए जाएं जो उसे क्षतिग्रस्त कर दें। इसके अलावा तिरंगे को शरीर पर लपेटा नहीं जा सकता है। उसे बतौर रुमाल इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं यानी रुमाल पर तिरंगे को नहीं छाप सकते हैं और ना ही किसी अन्य पोशाक के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं।

Previous articleअजमेर में मां अपने बच्चों के साथ कूदी कुएं में, पारिवारिक समस्या से थी परेशान
Next articleIs BJP supporting its MLA in Jalore saint suicide matter by choosing to stay mum? Silence is Golden ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here