Home International Health कोरोना की बढ़ती रफ्तार के बीच महाराष्ट्र में लॉकडाउन 31 जुलाई तक...

कोरोना की बढ़ती रफ्तार के बीच महाराष्ट्र में लॉकडाउन 31 जुलाई तक बढ़ा

136
0

द एंगल।

मुम्बई।

महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के मामले कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं। इसे देखते हुए महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) ने एक अहम् फैसला किया है। राज्य सरकार ने कोरोना वायरस (Coronavirus) के मद्देनजर लगाए गए लॉकडाउन (Lockdown) को अब आगामी 31 जुलाई तक के लिए बढ़ा दिया है।

10 प्रतिशत क्षमता के साथ काम कर सकेंगे निजी कार्यालय

महाराष्ट्र सरकार ने कहा है कि COVID-19 को नियंत्रित करने के लिए राज्य में संबंधित नगर निगमों के आयुक्त और जिला कलेक्टरों कुछ गैर-आवश्यक गतिविधियों और व्यक्तियों की आवाजाही पर निर्दिष्ट स्थानीय क्षेत्रों में कुछ उपायों और आवश्यक प्रतिबंधों को लागू कर सकते हैं। सरकार ने आदेश जारी कर कहा कि आपातकालीन, स्वास्थ्य और चिकित्सा, कोषागार, आपदा प्रबंधन, पुलिस जैसे सरकारी कार्यालय 15 प्रतिशत क्षमता या फिर 15 व्यक्तियों (जो अधिक हो) के साथ काम करेंगे। सभी निजी कार्यालय 10% क्षमता या 10 लोग जो भी अधिक हो, के साथ काम कर सकते हैं।

30 के बाद भी जारी रहेंगी पाबंदियां

बता दें Thackeray ने रविवार को ही कहा था कि 30 जून के बाद भी राज्य में पाबंदियां जारी रहेंगी। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) ने रविवार को अपने संबोधन में कहा था कि 30 जून के बाद भी राज्य में लॉकडाउन की पाबंदियां जारी रहेंगी। ठाकरे ने पाबंदियों में ढील दिए जाने से इंकार करते हुए कहा कि राज्य में कोरोना वायरस का खतरा अब भी बना हुआ है। ठाकरे ने बाद में ट्वीट किया, “क्या 30 जून के बाद लॉकडाउन हटाया जाएगा? स्पष्ट उत्तर ‘नहीं’ है। राज्य में मिशन बिगिन अगेन के तहत अनलॉक प्रक्रिया शुरू की गई है। 30 जून के बाद भी पाबंदियां जारी रहेंगी लेकिन धीरे-धीरे लोगों को ज्यादा ढील दी जाएगी।”

जारी रहेंगी कुछ पाबंदियां

मुख्यमंत्री कार्यालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, “मामले के आधार पर ढील दी जाएगी। उदाहरण के लिए यात्री परिवहन पर कुछ पाबंदियां जारी रहेंगी लेकिन कुछ स्थानीय सेवाओं को अनुमति दी जाएगी।” ठाकरे ने कहा कि चूंकि बड़ी संख्या में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं, इसलिए कड़ा अनुशासन लागू रहना जरूरी है। उन्होंने कहा, “मैं लॉकडाउन शब्द का प्रयोग नहीं भी कर रहा हूं तो भी गलतफहमी में नहीं रहें और सुरक्षा कम नहीं करें. वास्तव में हमें ज्यादा अनुशासन दिखाने की जरूरत है।”

ठाकरे बोले- बारिश के कारण फैल सकती हैं बीमारियां

Thackeray ने कहा कि मॉनसून शुरू हो चुका है और भारी बारिश तथा बीमारियों जैसे मुद्दे के समाधान के लिए हमने बैठकें करनी शुरू कर दी हैं। उन्होंने कहा, “बारिश के कारण बीमारियां फैल सकती हैं और हमने आसपास साफ-सफाई रखकर एहतियात बरतना शुरू कर दिया है और सुनिश्चित कर रहे हैं कि कहीं पानी जमा नहीं हो।” उन्होंने निजी डॉक्टरों से भी काम शुरू करने की अपील की ताकि स्वास्थ्य मशीनरी के बोझ को कम किया जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here