Home International वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में नीरज चोपड़ा ने जीता सिल्वर मेडल, रचा इतिहास

वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में नीरज चोपड़ा ने जीता सिल्वर मेडल, रचा इतिहास

172
0
वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप 2022 के सिल्वर मेडल विनर नीरज चोपड़ा

The Angle

स्पोर्ट्स डेस्क।

रविवार की सुबह भारत वासियों और खेल प्रेमियों के लिए एक बड़ी खुशखबरी लेकर आई है। टोक्यो ओलंपिक में भाला फेंक स्पर्धा में स्वर्ण पदक अपने नाम कर इतिहास दर्ज कर चुके गोल्डन बॉय नीरज चोपड़ा ने वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल जीतकर अपना नाम देश के खेल जगत के इतिहास में स्वर्ण अक्षरों से लिख दिया है। नीरज ने अमेरिका के यूजीन में हुई वर्ल्ड एथलेटिक्स चैम्पियनशिप के फाइनल मुकाबले में 88.13 मीटर दूर फेंका भाला फेंककर ये उपलब्धि हासिल की। वहीं इस ऐतिहासिक जीत के बाद नीरज चोपड़ा ने बताया कि मुकाबले के दौरान हवा चल रही थी। इसके चलते वे देश के लिए स्वर्ण पदक नहीं जीत सके। हालांकि उन्होंने कहा कि आगामी बर्मिंगम कॉमनवैल्थ खेलों में वे अपने प्रदर्शन को और बेहतर करते हुए स्वर्ण पदक जीतना चाहेंगे।

नीरज चोपड़ा बोले- हर एथलीट का दिन होता है, आज पीटर्स का दिन था

नीरज चोपड़ा ने कहा कि मैं हमेशा से कहता आया हूं कि हर एथलीट का दिन होता है। आज पीटर्स का दिन था, उसने अच्छा खेला, जबकि वह ओलंपिक फाइनल में भी नहीं पहुंच पाया था। ये हर एथलीट के लिए काफी चैलेंजिंग होता है, हर एथलीट की बॉडी भी अलग होती है। कभी किसी को कंपेयर नहीं किया जा सकता., सभी ने दमखम लगाया। हमने भी काफी कोशिश की। टफ कॉम्पीटिशन था।

कॉमनवैल्थ खेलों में भी नीरज चोपड़ा से स्वर्णिम जीत की आस

नीरज चोपड़ा ने वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल जीतकर देशवासियों की उम्मीदों को और ज्यादा बढ़ा दिया है। ऐसे में आगामी 28 जुलाई से लंदन के बर्मिंघम में शुरू होने जा रहे कॉमनवैल्थ गेम्स को लेकर भी देश के खेलप्रेमी काफी उत्साहित हैं। कहा जा रहा है कि नीरज अपने प्रदर्शन को और बेहतर बनाते हुए कॉमनवैल्थ खेलों में स्वर्णिम जीत दर्ज करने में कामयाब होंगे।

खत्म किया 19 साल का सूखा, भारत ने वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में पहली बार जीता सिल्वर मेडल

नीरज चोपड़ा का ये मेडल इसलिए भी अहमियत रखता है क्योंकि इस बार की वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में भारत का यह पहला मेडल है। नीरज ने 88.13 मीटर थ्रो के अपने सर्वश्रेष्ठ थ्रो के साथ सिल्वर मेडल अपनी झोली में डाला। इस तरह 2003 के 19 साल बाद भारत को इस टूर्नामेंट में मेडल मिला है। इससे पहले 2003 में लॉन्ग जंपर अंजू बॉबी जॉर्ज ने विश्व चैंपियनशिप में ब्रॉन्ज मेडल जीता था। इस ऐतिहासिक जीत पर पीएम मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर सहित तमाम लोगों ने शुभकामनाएं दी हैं।

Previous articleसीएम गहलोत के लिए जनहित सर्वोपरि, फिर सीएमआर पर बुलाई सर्वदलीय बैठक
Next articleभारत में बढ़े मंकीपॉक्स के मामले, डब्ल्यूएचओ ने किया वर्ल्ड हैल्थ इमरजेंसी का ऐलान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here