Home Education बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने की दिशा में गहलोत सरकार की एक...

बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने की दिशा में गहलोत सरकार की एक और पहल

72
0

The Angle

जयपुर।

सूबे के मुखिया अशोक गहलोत हमेशा से ही बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने के प्रबल समर्थक रहे हैं। इसी के चलते उन्होंने अपने पिछले बजट में बालिकाओं के लिए शिक्षा को पूरी तरह नि:शुल्क किए जाने की घोषणा की थी। यह घोषणा अगले सत्र से लागू भी हो जाएगी। इसी तरह बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने की दिशा में मुख्यमंत्री गहलोत ने एक और बड़ा कदम उठाया है। दरअसल उन्होंने आदिवासी छात्राओं को स्कूटी बांटने की योजना का फैसला लिया है। उन्होंने इस योजना को मंजूरी देते हुए कहा, कि वित्तीय वर्ष 2019-20 में जनजाति क्षेत्रीय विभाग (टीएडी) की ओर से टीएसपी एवं माड़ा क्षेत्र की मेधावी जनजाति बालिकाओं को 6 हजार स्कूटी बांटेगा।

सरकार के फैसले का सभी ने किया स्वागत

गहलोत के इस कदम का सभी ने स्वागत किया है। राजस्थान सरकार की ओर से कहा गया कि 6 हजार स्कूटियों को आदिवासी छात्राओं को बांटा जाएगा। इससे पहले आदिवासी छात्राओं को बांटी जाने वाली स्कूटियों की की संख्या 4 हजार थी। इसमें भी इज़ाफा करते हुए सरकार ने 6 हजार कर दिया गया है।

 

देवनारायण स्कूल स्कूटी योजना में स्कूटियों की संख्या बढ़ाई

सरकार की तरफ से जारी बयान के मुताबिक सीएम गहलोत ने ” देवनारायण स्कूल स्कूटी योजना ” के तहत बांटी जाने वाली स्कूटियों की संख्या में भी बढ़ोतरी की है। पहले इस योजना के तहत बांटी जाने वाली स्कूटियों की संख्या 1 हजार थी, जिसे बढ़ाकर 1 हजार 500 कर दिया गया है। अब 1 हजार 500 मेधावी आदिवासी छात्राओं को इस योजना के तहत नि:शुल्क स्कूटी दी जाएगी। मुख्यमंत्री की इस योजना से बालिका शिक्षा को बढ़ावा मिलेगा और ज्यादा से ज्यादा छात्राओं की शिक्षा में रुचि बढ़ेगी। क्योंकि स्कूल दूर होने से आने-जाने में होने वाली असुविधा के चलते अब बालिकाओं को स्कूल छोड़ने के लिए बाध्य नहीं होना पड़ेगा।

योजना की गहलोत सरकार ने बजट में की थी घोषणा

बता दें कि इसके अलावा अशोक गहलोत ने ” कालीबाई भील मेधावी छात्रा स्कूटी योजना ” को भी मंजूरी दी है। ये योजना अल्पसंख्यकों और अनुसूचित जाति की छात्राओं के लिए है। इस योजना के तहत अल्पसंख्यक और अनुसूचित जाति के मेधावी छात्राओं को सरकार की तरफ से स्कूटर दिया जाएगा। उल्लेखनीय है कि गहलोत ने इस योजना की बजट में घोषणा की थी।

 

कालीबाई भील स्कूटी योजना में अन्य वर्गों की छात्राओं को भी मिलेगा लाभ

खास बात ये है कि कालीबाई भील मेधावी छात्रा स्कूटी योजना में अब जनजाति की मेधावी छात्राओं के साथ-साथ अनुसूचित जाति, ओबीसी, अल्पसंख्यक एवं सामान्य वर्ग के आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग (ईबीसी) सभी वर्गों की मेधावी छात्राओं को लाभ मिले सकेगा।

देवनारायण छात्रा स्कूटी योजना जारी रहेगी

बता दें देवनारायण छात्रा स्कूटी योजना पहले की तरह ही अपने नाम से संचालित होगी, जबकि शेष स्कूटी योजनाएं कालीबाई भील मेधावी छात्रा स्कूटी योजना में समाहित हो जाएंगी। टीएडी विभाग द्वारा संचालित स्कूटी योजना में 10वीं कक्षा उत्तीर्ण करने वाली मेधावी छात्राओं को भी पहले की तरह ही स्कूटी मिलेगी। इससे 10वीं उत्तीर्ण करने वाली मेधावी छात्राओं को 11वीं कक्षा में नियमित प्रवेश लेने के लिए प्रोत्साहन मिल सकेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here