Home National पीएम मोदी कल लेंगे नीति आयोग की बैठक, तेलंगाना सीएम ने किया...

पीएम मोदी कल लेंगे नीति आयोग की बैठक, तेलंगाना सीएम ने किया मीटिंग के बायकॉट का ऐलान

48
0
तेलंगाना के सीएम के. चंद्रशेखर राव (फाइल इमेज)

The Angle

हैदराबाद।

देश के विकास के लिए बेहतर नीतियों का निर्माण किया जा सके, इसके लिए मोदी सरकार ने 5 वर्षीय योजनाओं के प्रारूप को खत्म कर 1 जनवरी 2015 को नीति आयोग का गठन किया था। देश के प्रधानमंत्री इसके अध्यक्ष होते हैं। पीएम मोदी कल इसकी मीटिंग लेने वाले हैं, जिसमें देशभर के सभी राज्यों के मुख्यमंत्री और उपराज्यपालों को शामिल होना है। राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत भी 7 अगस्त को होने वाली इस मीटिंग में शामिल होंगे। वहीं तेलंगाना के सीएम के चंद्रशेखर राव ने इस मीटिंग में शामिल होने से इनकार कर दिया है।

तेलंगाना सीएम ने केंद्र पर लगाया गैर-भाजपा शासित राज्यों से भेदभाव करने का आरोप

इसका कारण बताते हुए तेलंगाना सीएम ने पीएम मोदी को 4 पन्ने का लेटर भी लिखा है। इस पत्र में तेलंगाना सीएम ने लिखा कि केंद्र और राज्य सरकारें संघवाद की नीति के तहत आपसी सामंजस्य से विकास करते हुए आगे बढ़ें, इसी उद्देश्य से नीति आयोग का गठन किया गया था। लेकिन केंद्र सरकार की ओर से पिछले दिनों लिए गए कुछ फैसलों की वजह से संघवाद की इस भावना को गहरा धक्का लगा है, कहने की जरूरत नहीं कि इससे तेलंगाना जैसे कई राज्यों को आर्थिक चुनौतियों का भी सामना करना पड़ रहा है और उनके साथ गैर-भाजपा शासित राज्य होने के चलते भेदभाव किया जा रहा है।

राज्यों को नीतियों में जरूरत के हिसाब से बदलाव या संशोधन की थी छूट- चंद्रशेखर

तेलंगाना सीएम ने केंद्र सरकार के रवैये के प्रति अपनी नाराजगी जताते हुए आगे लिखा कि नीति आयोग का गठन इसलिए किया गया था ताकि राज्य सरकारें देश के विकास के लिए केंद्र को अपने सुझाव दे सकें और केंद्र उनके हिसाब से नीतियों को बनाए। वहीं राज्यों को अपनी सहूलियत के हिसाब से इन नीतियों में संशोधन या बदलाव करने की भी छूट दी गई थी ताकि इन योजनाओं का ज्यादा से ज्यादा लाभ वहां की जनता को दिलाया जा सके। साथ ही उन्होंने बताया कि तेलंगाना देश के उन राज्यों में से एक है जहां प्रदेश के हर घर में जल जीवन मिशन के तहत पानी पहुंचाया जा रहा है, जो कि केंद्र सरकार की योजना है। इसके बाद भी तेलंगाना के साथ भेदभावपूर्ण व्यवहार किया जा रहा है।

के. चंद्रशेखर राव ने नीति आयोग की बैठक में शामिल होने से किया इनकार

ये तमाम तर्क देते हुए तेलंगाना सीएम ने बताया कि वे कल होने वाली नीति आयोग की बैठक में शामिल नहीं होंगे क्योंकि इस बैठक में शामिल होने का कोई अर्थ नहीं है क्योंकि केंद्र राज्यों की ओर से दिए गए सुझावों पर अमल नहीं करता है। गौरतलब है कि तेलंगाना सीएम बीते कुछ समय से केंद्र की मोदी सरकार पर लगातार हमलावर हैं।

Previous articleमहंगाई के खिलाफ विरोध प्रदर्शन को राम मंदिर स्थापना से जोड़ने पर कांग्रेस का भाजपा पर हमला
Next articleसाधु रविनाथ की आत्महत्या पर बीजेपी विधायक सहित 3 लोगों के खिलाफ दर्ज हुआ केस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here