Home Business पीएम मोदी की देशवासियों से अपील, जी-20 शिखर सम्मेलन की अध्यक्षता मिलना...

पीएम मोदी की देशवासियों से अपील, जी-20 शिखर सम्मेलन की अध्यक्षता मिलना बड़ा अवसर

67
0
पीएम नरेंद्र मोदी (फाइल इमेज)

The Angle

नई दिल्ली।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि भारत को जी-20 की अध्यक्षता मिलना एक बड़ा अवसर है और देश को इसका पूरा उपयोग करते हुए ‘‘विश्व कल्याण’’ पर ध्यान केंद्रित करना है। आकाशवाणी के मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ की 95वीं कड़ी में अपने विचार साझा करते हुए प्रधानमंत्री ने देशवासियों से इस अवसर से जुड़ने का भी आग्रह किया। उन्होंने कहा कि विश्व की आबादी में जी-20 देशों की दो-तिहाई, विश्व व्यापार में तीन-चौथाई और वैश्विक सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में 85 प्रतिशत भागीदारी है और भारत 1 दिसंबर से इतने बड़े और सामर्थ्यवान समूह की अध्यक्षता करने जा रहा है।

वन अर्थ, वन फैमिली, वन फ्यूचर की थीम से जाहिर होती है वसुधैव कुटुम्बकम के लिए प्रतिबद्धता- मोदी

उन्होंने कहा कि जी-20 की अध्यक्षता हमारे लिए एक बड़ा अवसर बनकर आई है। हमें इस मौके का पूरा उपयोग करते हुए विश्व कल्याण पर ध्यान केंद्रित करना है। पीएम मोदी ने कहा कि चाहे शांति हो या एकता, पर्यावरण को लेकर संवेदनशीलता हो या फिर टिकाऊ विकास, भारत के पास इनसे जुड़ी चुनौतियों का समाधान है। उन्होंने कहा कि हमने वन अर्थ, वन फैमिली, वन फ्यूचर की जो थीम दी है, उससे वसुधैव कुटुम्बकम के लिए हमारी प्रतिबद्धता जाहिर होती है। मोदी ने कहा कि जी-20 में आने वाले लोग भले ही एक प्रतिनिधि के रूप में आएं, लेकिन वे भविष्य के पर्यटक भी हैं। उन्होंने उम्मीद जताई कि इतने बड़े आयोजन के दौरान देशवासी भारत की संस्कृति के विविध और खास रंगों से दुनिया को रूबरू कराएंगे।

पीएम मोदी का देश से आग्रह- किसी न किसी रूप में जी-20 समिट से जुड़ें युवा

मोदी ने कहा कि आने वाले दिनों में देश के अलग-अलग हिस्सों में जी-20 से जुड़े कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे और इस दौरान दुनिया के अलग-अलग हिस्सों से लोगों को विभिन्न राज्यों में जाने का मौका मिलेगा। प्रधानमंत्री ने देशवासियों, खासकर युवाओं से आग्रह किया कि वे किसी न किसी रूप में जी-20 से जरूर जुड़ें। उन्होंने स्कूलों, कॉलेजों और विश्वविद्यालयों से भी आग्रह किया कि वे अपने संस्थानों में जी-20 विषय पर चर्चा, परिचर्चा और प्रतियोगिताओं का आयोजन करें।

Previous articleसरदारशहर उपचुनाव बीजेपी के लिए आसान नहीं,वसुंधरा पास रहकर भी है दूर !
Next articleगहलोत के बयान पर बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान बोले पायलट से हो जाती है कभी-कभी मुलाकात !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here