Home Entertainment अटल टनल का उद्घाटन करने 3 अक्टूबर को मनाली जा रहे हैं...

अटल टनल का उद्घाटन करने 3 अक्टूबर को मनाली जा रहे हैं प्रधानमंत्री मोदी, कंगना रनौत कर सकती हैं मुलाकात

167
0

द एंगल।

शिमला।

सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण अटल टनल रोहतांग के लोकार्पण के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन अक्टूबर को हिमाचल आएंगे। इस दौरे को लेकर सामान्य प्रशासन विभाग (जीएडी) ने तैयारी शुरू कर दी है। जानकारी के मुताबिक कंगना रनौत भी इस उद्घाटन समारोह में शामिल हो सकती हैं। दरअसल 17 सितंबर पीएम मोदी को उनके जन्मदिन के मौके पर कंगना ने भी बधाई दी थी। इस पर मोदी ने भी कंगना का नाम लेकर सोशल मीडिया के माध्यम से उनका धन्यवाद किया था। यही नहीं शिवसेना की ओर से कंगना को धमकी दिए जाने पर पीएम की सहमति से ही कंगना को वाई श्रेणी की सुरक्षा दी गई थी। वहीं पिछले दिनों राज्यसभा सांसद रामदास अठावले ने भी कंगना को राजनीति में आने का न्यौता दिया था।

कंगना रनौत जता चुकी हैं प्रधानमंत्री से मिलने की इच्छा

ऐसे में माना जा रहा है कि कंगना पीएम से मुलाकात कर सकती हैं। उल्लेखनीय है कि कंगना ने बॉलीवुड में सुधार समेत कश्मीरी पंडितों के मसलों पर चर्चा करने के लिए पिछले कई दिनों से पीएम से मिलने की इच्छा जताई थी। कंगना ने कई मौकों पर प्रधानमंत्री का समर्थन किया है। हाल ही में पास हुए कृषि विधेयकों पर भी कंगना ने पीएम की सराहना की है। बता दें कंगना इन दिनों मनाली में ही अपनी फैमिली के साथ हैं।

मुख्यमंत्री तय करेंगे प्रधानमंत्री को दी जाने वाली भेंट

वहीं हिमाचल प्रदेश प्रशासन ने प्रधानमंत्री के मनाली दौरे को देखते हुए निर्देश दिए हैं कि लाहुल-स्पीति और कुल्लू जिले की संस्कृति से जुड़े दस उत्पादों की सूची तैयार करें, जिन्हें प्रधानमंत्री को भेंटस्वरूप दिया जा सकता है। खास तौर पर इस बात का ध्यान रखा जा रहा है कि इसमें कोई ऐसी चीज नहीं होनी चाहिए जिसे पहले प्रधानमंत्री को भेंट किया जा चुका हो। गौरतलब है कि इससे पहले ग्लोबल इन्वेस्टर मीट के लिए जब प्रधानमंत्री धर्मशाला आए थे, तो सरकार ने उन्हें देवरथ भेंट किया था। इसलिए सामान्य प्रशासन विभाग एक-दो दिन में मुख्यमंत्री को इस संबंध में प्रेजेंटेशन देगा। मुख्यमंत्री तय करेंगे कि प्रधानमंत्री को क्या भेंट करना है।

थंका पेंटिंग पीएम मोदी को की जा सकती है भेंट

माना जा रहा है कि इस बार प्रधानमंत्री तो थंका पेंटिंग भेंट की जा सकती है। तिब्बती बौद्ध कला का बेहतरीन नमूना थंका पेंटिग कपड़े पर बनाई जाती है। इसमें प्राकृतिक रंगों और गोल्ड डस्ट का इस्तेमाल किया जाता है। ये चित्र कढ़ाई करके या सजाकर भी बनाए जाते थे। इन्हें बौद्ध मठों और घरों में भी देखा जाता है। इसका रिश्ता भारत, तिब्बत व नेपाल से भी जुड़ा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here