Home National RSS प्रमुख मोहन भागवत ने नई दिल्ली में मस्जिद के चीफ इमाम...

RSS प्रमुख मोहन भागवत ने नई दिल्ली में मस्जिद के चीफ इमाम से की मुलाकात

54
0
RSS प्रमुख मोहन भागवत (File Image)

द एंगल

नई दिल्ली.

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत ने आज नई दिल्ली में अखिल भारतीय इमाम संगठन के प्रमुख और ऑल इंडिया इमाम ऑर्गनाइजेशन के प्रमुख इमाम डॉ उमर अहमद इलियासी के साथ मुलाकात की। दिल्ली के कस्तूरबा गांधी मार्ग मस्जिद में बंद कमरे में दोनों के बीच एक घंटे से अधिक वक्त तक मीटिंग चली।

भारतीय इमाम संगठन प्रमुख ने मोहन भागवत को कहा राष्ट्रपिता

बताया जा रहा है कि मुस्लिम धार्मिक संगठन के प्रमुख से RSS चीफ की मस्जिद में यह पहली मुलाकात है। मीटिंग में भागवत के साथ सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्ण गोपाल और संघ के वरिष्ठ प्रचारक इंद्रेश कुमार, रामलाल और हरीश कुमार भी मौजूद थे। इस मुलाकात के बाद भारतीय इमाम संगठन प्रमुख उमर इलियासी ने उन्हें ‘राष्ट्रपिता’ और ‘राष्ट्र ऋषि’ बताया है। मुलाकात के बाद मीडिया ने डॉ. उमर अहमद से पूछा कि भागवत ने कुछ समय पहले ‘हिंदू-मुस्लिम का DNA एक’ वाला बयान दिया था, इस पर आप क्या कहेंगे? इमाम ने जवाब में कहा- जो उन्होंने कहा वो सही है, क्योंकि वे राष्ट्रपिता और राष्ट्र ऋषि हैं। जो उन्होंने कह दिया वो ठीक है।

उमर इलियासी ने कहा कि मोहन भागवत का हमारे यहां आना एक सौभाग्य की बात है. वह इमाम हाउस पर आज मुलाकात करने आए और वह हमारे राष्ट्रपिता और राष्ट्र ऋषि हैं। देश की एकता, अखंडता बनी रहनी चाहिए हमारी पूजा करने के तरीके अलग हो सकते हैं और उससे पहले हम सब इंसान हैं और इंसानियत हमारे अंदर रहनी चाहिए और हम भारत में रहते हैं तो हम भारतीय हैं ।

इस बैठक के बारे में जानकारी देते हुए RSS के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख सुनील आंबेकर ने बताया कि, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक समाज के विभिन्न प्रकार के लोगों से मिलते रहते हैं। यह भी इसी सतत चलने वाली संवाद प्रक्रिया का हिस्सा है।

भागवत ने पहले भी मुस्लिम प्रबुद्धजन से कि थी मुलाकात

गौरतलब है कि मुस्लिम समाज से लगातार संपर्क बढ़ाने के अभियान में जुटे RSS चीफ भागवत ने पिछले महीने एक अगस्त को भी अखिल भारतीय इमाम संगठन के प्रमुख डॉ इमाम उमर अहमद इलियासी के साथ मुलाकात की थी। हाल ही में 22 अगस्त को भागवत ने मुस्लिम प्रबुद्धजन के एक समूह से भी मुलाकात कर देश में सांप्रदायिक सद्भाव बढ़ाने के उपायों पर चर्चा की थी।

Previous articleकेरल में राहुल गांधी का बयान, कहा- मैं कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव नहीं लड़ूंगा
Next articleAb Lagega Sabka Number: Seema Pahwa Turns Calculating Politician Ganga Devi For Jamtara Season-2

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here