Home Business इन्वेस्ट राजस्थान समिट के लिए प्रदेश सरकार ने कसी कमर, लाखों लोगों...

इन्वेस्ट राजस्थान समिट के लिए प्रदेश सरकार ने कसी कमर, लाखों लोगों को मिलेगा रोजगार

64
0
इन्वेस्ट राजस्थान समिट से जुड़ी एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मीडिया से रूबरू होते सीएम अशोक गहलोत

The Angle

जयपुर।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एक बार फिर सरकार बदलने के साथ ही योजनाओं पर होने वाली कार्रवाई पर सवाल उठाया है। गहलोत ने कहा कि जब भी हमारी सरकार बदलती है और बीजेपी सत्ता में आती है, तो उसके बाद न केवल उन योजनाओं को बंद किया जाता है, बल्कि उनमें कमियां ढूंढ कर मुकदमे तक दर्ज किए जाते हैं। सीएम गहलोत ने कहा कि मेरे खिलाफ भी पिछली बार 108 एंबुलेंस मामले में केस दर्ज किया गया था। कई बार इस वजह से भी अधिकारी कोई काम करने में भी डरते हैं। प्रदेश में 7-8 अक्टूबर को होने जा रही इन्वेस्ट राजस्थान समिट से पहले एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए गहलोत ने बातें कहीं।

सीएम गहलोत ने बयानों को तोड़-मरोड़कर पेश करने पर जताई नाराजगी

उन्होंने कहा कि प्रदेश की सियासत में जो कुछ चल रहा है उसको मीडिया में कई तरह से तोड़-मरोड़ कर पेश किया है। मैंने पहले भी कहा है कि जो राजनीति में होता है, वह दिखता नहीं और जो दिखता है वह कभी होता नहीं। गहलोत ने कहा कि जो बोला जाता है उसे उस तरह से नहीं बल्कि कांट-छांट करके दिखाया जाता है। मैंने बयान दिया कि मैं कहीं भी रहूं, लेकिन राजस्थान जोधपुर और जहां मेरा जन्म हुआ उस गांव से मेरा लगाव हमेशा रहेगा और मैं उसके लिए काम करता रहूंगा।

मीडिया ने मैं कहीं भी रहूं शब्द को तो काट दिया और राजस्थान से और जोधपुर से मेरा लगाव हमेशा रहेगा और मैं काम करता रहूंगा, यह बयान दिखा दिया। इस तरह से भ्रम की स्थिति पैदा की जाती है, जो कि ठीक नहीं है। मीडिया पर आज भी लोग भरोसा करते हैं और उसे इस भरोसे को बनाए रखने की भी जरूरत है।

7-8 अक्टूबर को जयपुर उद्योग जगत के नामचीन सितारों से होगा गुलज़ार

गौरतलब है कि 7 और 8 अक्टूबर को राजस्थान में इन्वेस्ट समिट होने जा रहा है। इस समिट में अडानी समूह, वेदांता ग्रुप के अनिल अंबानी, लक्ष्मी निवास मित्तल सहित कई उद्योगपतियों को आमंत्रित किया गया है। अडानी ग्रुप को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कई बार आरोप लगाते रहे हैं। ऐसे में जब उनसे पूछा गया कि वे खुद हमेशा अडानी ग्रुप पर आरोप लगाते रहे हैं, फिर आपके राजस्थान इन्वेस्ट समिट में अडानी समूह को क्यों आमंत्रित किया गया ? इस पर उन्होंने कहा कि अगर नियम-कायदों के तहत अडानी काम करते हैं, तो हमें उनसे कोई दिक्कत नहीं है। दिक्कत तब होती है जब आप नियमों के विपरीत जाकर लाभ लेते हैं।

सीएम गहलोत ने राजस्थान रत्न अवार्ड के नामों का किया ऐलान

इसके साथ ही इसी दौरान मुख्यमंत्री गहलोत ने बताया कि सरकार की ओर से राजस्थान के 6 लोगों को राजस्थान रत्न अवार्ड से भी सम्मानित किया जाएगा। इन हस्तियों ने अपने-अपने क्षेत्र में एक ऊंचा मुकाम हासिल करते हुए प्रदेश का नाम देश-दुनिया में रोशन किया है। अवार्ड पाने वाली महान विभूतियों के नामों का ऐलान करते हुए गहलोत ने बताया कि इस साल इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस में जज रहे राजस्थान के एक मात्र जस्टिस दलवीर भंडारी, राजस्थान से आने वाले एक मात्र सीजेआई जस्टिस आरएम लोढ़ा, बिजनेस टायकून अनिल अग्रवाल, नामी उद्योगपति लक्ष्मी निवास मित्तल, मशहूर शायर शायर शीन काफ़ निज़ाम और राजस्थान के संगीत की महक को देश और दुनिया के कोने-कोने तक पहुंचाने वाले केसी मालू के ये सम्मान समिट के दौरान दिया जाएगा।

Previous articleभारत को मिला देश का पहला लाइट कॉम्बैट हेलीकॉप्टर, पश्चिमी सरहद पर वायुसेना को मिली ‘प्रचंड’ ताकत
Next articleकन्हैया लाल हत्याकांड के चश्मदीद गवाह राजकुमार शर्मा का सफल ऑपरेशन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here