Home National लोकसभा चुनाव में पीएम मोदी के खिलाफ नामांकन भरने वाले बीएसएफ के...

लोकसभा चुनाव में पीएम मोदी के खिलाफ नामांकन भरने वाले बीएसएफ के पूर्व जवान तेज बहादुर को ‘सुप्रीम’ झटका

250
0

द एंगल।

नई दिल्ली।

उत्तर प्रदेश की वाराणसी लोकसभा सीट से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने वाले बीएसएफ के पूर्व जवान तेज बहादुर को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा झटका लगा है। दरअसल सुप्रीम कोर्ट ने पूर्व बीएसएफ जवान की एक याचिका को खारिज कर दिया है। याचिका के जरिए उन्होंने 2019 के लोकसभा चुनाव में वाराणसी संसदीय सीट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ नामांकन पत्र रद्द किए जाने के निर्वाचन आयोग के फैसले को चुनौती दी थी।

बीएसएफ के पूर्व जवान तेज बहादुर ने गलत तरीके से नामांकन रद्द करने का लगाया था आरोप

तेज बहादुर ने याचिका में आरोप लगाया था कि पीएम के दबाव में गलत तरीके से चुनाव अधिकारी ने उनका नामांकन रद्द किया। चीफ जस्टिस एस ए बोबड़े, न्यायमूर्ति ए एस बोपन्ना और न्यायमूर्ति वी रामासुब्रमण्यम की पीठ ने 18 नवंबर को अपील पर सुनवाई पूरी की थी।

तेज बहादुर ने निर्वाचन अधिकारी के फैसले को इलाहाबाद हाईकोर्ट में दी थी चुनौती

पीठ ने आज इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश को बरकरार रखते हुए तेज बहादुर की अपील को खारिज कर दिया। इससे पहले हाईकोर्ट ने पूर्व बीएसएफ जवान का नामांकन पत्र रद्द करने के निर्वाचन अधिकारी के फैसले के खिलाफ दायर याचिका रद्द कर दी थी। तेज बहादुर ने समाजवादी पार्टी की ओर से नामंकन दाखिल किया था, जिसे निर्वाचन अधिकारी ने पिछले साल एक मई को अस्वीकार कर दिया था। इसपर पूर्व बीएसएफ जवान ने इलाहाबाद हाईकोर्ट में याचिका लगाई थी। हाईकोर्ट ने निर्वाचन अधिकारी के फैसले को बरकरार रखा था।

भोजन की गुणवत्ता पर सवाल उठाने पर सेना से किया गया था बर्खास्त

बता दें पूर्व बीएसएफ जवान ने सैन्यबलों को दिए जाने वाले भोजन की गुणवत्ता को लेकर शिकायत करते हुए एक वीडियो ऑनलाइन वीडियो पोस्ट किया था, जिसके बाद उन्हें 2017 में बीएसएफ से बर्खास्त कर दिया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here