Home Agriculture ऑर्गेनिक फूड खाने के हैं बड़े फायदे

ऑर्गेनिक फूड खाने के हैं बड़े फायदे

34
0

The Angle

जयपुर।

आजकल होने वाली बीमारियों में से ज्यादातर का कारण आपका खान-पान है। ये खाने-पीने की चीजें हमें खेतों से मिलती हैं और ज्यादा उत्पादन के ज़रिए ज्यादा मुनाफा कमाने के लालच आजकल खेती में केमिकल और फर्टिलाइज़र्स का धड़ल्ले से इस्तेमाल किया जा रहा है। लेकिन ऐसा अनाज कई बीमारियों का कारण बन रहा है। फसलों को नुकसान पहुंचाने वाले कीटों को मारने के लिए जिन रसायनों का प्रयोग किया जा रहा है, वह आपके लिए भी हानिकारक हैं। ऐसे में इस स्थिति से तब ही छुटकारा पाया जा सकता है, जब बिना रसायन वाले और प्राकृतिक रूप से उगाए गए फल, सब्जियां हम अपनी डाइट में शामिल कर सकें। इसके लिए ऑर्गेनिक फूड एक बेहतर विकल्प है।

 

बिना रसायनों के इस्तेमाल के की जाती है खेती

ऑर्गेनिक फूड को उगाने में किसी भी प्रकार के रसायन का उपयोग नहीं किया जाता है और ये प्रकृति के संतुलन के साथ ही उगाए जाते हैं। इन फल और सब्जियों की उपज के दौरान उनका आकार बढ़ाने या समय से पहले पकाने के लिए किसी तरह के केमिकल का इस्तेमाल नहीं किया जाता है। इसलिए इसे जैविक खेती भी कहा जाता है। ऑर्गेनिक फूड ऑर्गेनिक फार्म में उगाए जाते हैं और इन्हें खाने से आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है। इसमें विटामिन, मिनरल्स, प्रोटीन, कैल्शियम, आयरन, आदि जरूरी पोषक तत्व मौजूद होते हैं। ये ही वो चीजें हैं, जो आपके शरीर को बिना कोई नुकसान पहुंचाए स्वस्थ बनाए रखती हैं।

कम पैदावार के चलते महंगे होते हैं ऑर्गेनिक फूड प्रोडक्ट्स

कई बार आम खाद्य पदार्थ और ऑर्गेनिक खाद्य पदार्थ के बीच अंतर कर पाना आसान नहीं होता है, क्योंकि ये भी रसायनों के ज़रिए उगाए गए फल-सब्जियों जैसे ही होते हैं। लेकिन सामान्य खाद्य पदार्थों के मुकाबले ऑर्गेनिक खाद्य पदार्थों की पैदावार कम है और मांग ज्यादा। इसी के चलते ऑर्गेनिक फूड की कीमतें सामान्य फूड आइटम्स की तुलना में ज्यादा होती हैं। इसके अलावा इनका सर्टिफिकेशन भी महंगा होता है।

ऑर्गेनिक फूड रखता है बीमारियों से दूर

जैविक खाने में मौजूद पोषक तत्व दिल की बीमारियों, ब्लड प्रेशर की समस्या, माइग्रेन, शुगर और कैंसर जैसी खतरनाक बीमारियों से आपका बचाव करता है। इनमें फैट नहीं होता, इसलिए आपको अपना वेट कंट्रोल करने में भी मदद मिलती है।

ऑर्गेनिक उत्पादों में होते हैं अधिक पोषक तत्व

जैविक तरीके से उगाई गई चीजों में आम तरीके से उगाई फसल के मुकाबले अधिक पोषक तत्व होते हैं। ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि इन्हें जिस मिट्टी में उगाया जाता है वो अधिक उपजाऊ होती है, जिसमें फसल बेहतर होती है। इस वजह से इन उत्पादों में विटामिन्स और मिनरल्स अधिक होते हैं।

 

ऑर्गेनिक खेती पर्यावरण के लिए भी बेहतर

जैविक खेती पर्यावरण के लिए भी बेहतर है क्योंकि जैविक कृषि पद्धतियां प्रदूषण को कम करती हैं, पानी का संरक्षण करती हैं, मिट्टी का क्षरण कम करती हैं, मिट्टी की उर्वरता बढ़ाती हैं और कम ऊर्जा का उपयोग करती हैं। कीटनाशकों के बिना खेती आस-पास के पक्षियों और जानवरों के साथ-साथ खेतों के करीब रहने वाले लोगों के लिए भी बेहतर है।

 

ऑर्गेनिक प्रोडक्ट्स में होते हैं ज्यादा एंटी-ऑक्सीडेंट्स

कई अध्ययनों में इस बात की जानकारी मिली है कि सामान्य फूड आइट्म्स के मुकाबले ऑर्गेनिक उत्पादों में एंटी-ऑक्सीडेंट्स ज्यादा होते हैं, क्योंकि कीटनाशकों के केमिकल उन अलग-अलग पोषक तत्वों को प्रभावित नहीं कर पाते, जो आपकी सेहत के लिए अच्छे हैं। नुकसानदायक केमिकल न होने से ऑर्गेनिक उत्पाद मिट्टी, हवा और पानी को कम से कम नुकसान पहुंचाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here