Home Politics राजस्थान में कानून व्यवस्था और महिला सुरक्षा को लेकर केंद्रीय मंत्री गजेंद्र...

राजस्थान में कानून व्यवस्था और महिला सुरक्षा को लेकर केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने गहलोत सरकार पर उठाए सवाल

22
0
Central Minister Gajendra Singh Shekhawat

The Angle
जयपुर।
प्रदेश में बिगडती कानून व्यवस्था और महिला सुरक्षा को लेकर केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने गहलोत सरकार पर निशाना साधा है। शेखावत ने जयपुर में कुछ दिनों पहले देर रात एक युवती से हुए सामूहिक दुष्कर्म पर राज्य सरकार पर हमला बोला है। उन्होने कहा की जयपुर में लाॅकडाउन के दौरान 22 वर्षीय युवती से हुआ सामूहिक दुष्कर्म का मामला राजस्थान में इकलौता नहीं है। प्रदेश में महिलाओं के प्रति अपराध तो अब रोज के समाचार का हिस्सा बन चुके है। इससे देशभर में राज्य की छवि बिगडती जा रही है।

राजस्थान में कांग्रेसियों ने किया मौन व्रत धारण

शेखावत ने कहा की राजस्थान वासियों की सुरक्षा को राज्य सरकार को राजनीति से परे रख कर प्राथमिकता देनी चाहिए। दिन दहाड़े मर्डर और गैंग रेप की घटनाएं सच में चिंता का विषय है। ये राजस्थान सरकार की योग्यता पर सवाल है! किसी और प्रदेश में किसी भी घटना का राजनीतीकरण करना हो तो कांग्रेस अपनी टोली के साथ सड़कों पर सबसे पहले उतरती है, लेकिन राजस्थान में चाहे जीवनदायिनी टीके बर्बाद हों, चाहे जनता से लूट मार हो, चाहे बेटियों का बलात्कार हो, कांग्रेसी मौन व्रत धारण कर लेते हैं।

राज्य की सरकार को सत्ता में बने रहने की है चिंता

उन्होने कहा की हमारे राज्य की सरकार को अपने विधायकों के बंगले की ज्यादा फिक्र है, सत्ता में बने रहने की चिंता है। वे लोग देश की सफलता में खामियां ढूंढते हैं और विरोध को हवा देते हैं। वे बेटियों, गरीबों, पीड़ितों के बारे में नहीं सोचते, इनका दुख उन्हें परेशान नहीं करता!

गहलोत सरकार को राज्य की बेटियों से है विशेष द्वेष

इसी के साथ जयपुर ग्रेटर नगर निगम की महापौर के निलंबन मामले में भी शेखावत ने सीएम गहलोत पर निषाना साधा है। उन्होने कहा की लोकतंत्र जनता से आता है, किसी एक परिवार से नहीं, इसलिए लोकतंत्र का सम्मान करो गहलोत जी, निलंबन रद्द करो। राजस्थान में चाहे महिला सांसद हो, महिला महापौर हो या साधारण महिला, यहां कौन सुरक्षित है? गहलोत सरकार को राज्य की बेटियों से विशेष द्वेष है। महिला उत्पीड़न तो जैसे इनका विशेषाधिकार है। तानाशाह गहलोत सरकार के तानाशाही कारनामों का बीज कांग्रेस की अलोकतांत्रिक परिवारवाद सोच में है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here