Home Politics राजस्थान विधानसभा में उठी एक और मंत्री के इस्तीफे की मांग

राजस्थान विधानसभा में उठी एक और मंत्री के इस्तीफे की मांग

47
0
राजस्थान विधानसभा में उठी एक और इस्तीफे की मांग

The Angle

जयपुर।

राजस्थान में इस समय बजट सत्र चल रहा है। आज बजट सत्र के दूसरे दिन की चर्चा हंगामेदार रही। प्रदेश के कृषि मंत्री किरोड़ी लाल मीणा ने आज जयपुर में आयोजित एक कार्यक्रम में अपने इस्तीफे की सार्वजनिक घोषणा की। अभी भजनलाल सरकार अपने एक मंत्री के इस्तीफे के झटके से उबर पाती, उससे पहले विपक्ष ने सरकार में शामिल एक और मंत्री के इस्तीफे की मांग कर दी। दरअसल आदिवासियों पर विवादित टिप्पणी को लेकर कांग्रेस सहित विपक्ष के नेताओं ने शिक्षा मंत्री मदन दिलावर से इस्तीफे की मांग की। मदन दिलावर के इस्तीफे की मांग को लेकर सदन में गहमागहमी देखने को मिली। बाद में कांग्रेस के सदस्यों ने सदन की शेष बची कार्यवाही का बहिष्कार कर दिया।

विधानसभा से विपक्ष का वॉक आउट, मदन दिलावर से माफी मंगवाने की मांग

लंच ब्रेक के बाद दोपहर ढाई बजे जब राजस्थान विधानसभा की कार्यवाही फिर से शुरू हुई तो विपक्ष ने एक बार फिर से मदन दिलावर से अपने बयान के लिए माफी मंगवाने की मांग को लेकर हंगामा किया। इसके बाद आज की सदन की कार्यवाही का बायकॉट करते हुए विपक्ष ने बहिर्गमन कर दिया। इससे पहले नेता प्रतिपक्ष टीकाराम जूली और PCC चीफ गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि राजस्थान के शिक्षा मंत्री ने आदिवासी समाज के लिए अपमानजनक टिप्पणी की है, हम उनकी निंदा करते हैं। शिक्षा मंत्री को माफी मांगनी चाहिए। मुख्यमंत्री को शिक्षा मंत्री का इस्तीफा लेना चाहिए। मदन दिलावर के इस्तीफे की मांग पर सदन में विपक्षी सदस्यों ने नारेबाजी भी की। जिसके कुछ देर बाद विपक्षी सांसदों ने सदन से वॉकआउट कर दिया।

कांग्रेस नेताओं पर मुकदमे का समय, लेकिन खनन माफिया पर एक्शन नहीं- कांग्रेस

मदन दिलावर के इस्तीफे की मांग के साथ-साथ विपक्ष के नेताओं ने कहा सरकार के पास कांग्रेस के नेताओं पर मुकदमे करने का समय है, लेकिन खनन माफिया के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया जा रहा। BJP के विधायक ने बजरी माफियाओं को लेकर सदन में सवाल उठाया। सभी विधायकों ने खनन माफियाओं को लेकर सदन में विशेष चर्चा की मांग की। नेता प्रतिपक्ष टीकाराम जूली ने कहा सदन के भीतर मंत्री सवालों के जवाब नहीं दे पा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here