Home Crime गोगामेड़ी हत्याकांड में पुलिस ने आरोपियों को मजिस्ट्रेट के सामने किया पेश,...

गोगामेड़ी हत्याकांड में पुलिस ने आरोपियों को मजिस्ट्रेट के सामने किया पेश, 18 दिसंबर तक रिमांड पर भेजा

41
0
गोगामेड़ी हत्याकांड में पुलिस ने आरोपियों को मजिस्ट्रेट के सामने किया पेश, 18 दिसंबर तक रिमांड पर भेजा

The Angle

जयपुर।

गोगामेड़ी हत्याकांड के मामले में गिरफ्तार दोनों शूटर्स समेत तीनों आरोपियों को आज सुबह मजिस्ट्रेट के आवास पर पेश किया गया, जहां से तीनों को 7 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया। आरोपी नितिन फौजी, रोहित राठौड़ और उधम सिंह को अल सुबह गांधीनगर स्थित मजिस्ट्रेट की आवास पर पेश किया गया। आरोपी रामवीर को रविवार को पुलिस ने मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश कर 8 दिन की पुलिस रिमांड पर लिया था। शूटर नितिन फौजी और रोहित राठौड़ ने सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या की थी। उधम सिंह ने फरारी के दौरान शूटर्स की मदद की थी। रिमांड पर लेकर अब पुलिस आरोपियों को आमने-सामने बिठाकर पूछताछ करेगी।

गोगामेड़ी हत्याकांड में आरोपी पुलिस के सामने उगल रहे बड़े राज

जानकारी के मुताबिक पुलिस की पूछताछ में आरोपी कई बड़े खुलासे कर रहे हैं। पूछताछ में सामने आया है कि आरोपी रोहित राठौड़ का पॉक्सो एक्ट मामले में सुखदेव सिंह गोगामेड़ी ने समझौता नहीं होने दिया था। इसलिए रोहित राठौड़ की सुखदेव गोगामेड़ी से दुश्मनी हो गई थी। रोहित राठौड़ वारदात से कुछ दिन पहले ही नितिन फौजी से मिला था।

फर्जी पासपोर्ट बनाकर नितिन फौजी और उसकी पत्नी को विदेश भेजने की थी प्लानिंग

पूछताछ में दोनों शूटर्स ने बताया कि वह पहले एक दूसरे को नहीं जानते थे। मर्डर से थोड़े से दिन पहले ही दोनों की मुलाकात हुई थी। रोहित गोदारा गैंग के खास वीरेंद्र चारण ने नितिन फौजी को गैंग जॉइन करवाई थी। फर्जी पासपोर्ट बनाकर नितिन फौजी और उसकी पत्नी को विदेश भेजने की भी प्लानिंग थी। रोहित सिंह राठौड़ ने पुलिस को बताया है कि पॉक्सो एक्ट के एक मामले में समझौता हो रहा था, लेकिन सुखदेव सिंह गोगामेड़ी ने बीच में आकर समझौता नहीं होने दिया, जिसकी वजह से दुश्मनी हो गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here