Home Business पीएम मोदी ने हरित ऊर्जा क्षेत्र में निवेश के लिए दुनियाभर के...

पीएम मोदी ने हरित ऊर्जा क्षेत्र में निवेश के लिए दुनियाभर के निवेशकों को दिया न्यौता

300
0
पीएम मोदी ने हरित ऊर्जा क्षेत्र में निवेश के लिए दुनियाभर के निवेशकों को दिया न्यौता

The Angle

नई दिल्ली।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हरित ऊर्जा क्षेत्र में निवेश आमंत्रित करते हुए कहा कि नवीकरणीय ऊर्जा के मामले में देश की जो क्षमता है वह ‘‘सोने की खदान’’ से कम नहीं है। आम बजट 2023-24 में हरित वृद्धि को लेकर की गईं विभिन्न घोषणाओं के संबंध में एक वेबिनार को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत हरित ऊर्जा के क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। मैं सभी हितधारकों को भारत में निवेश के लिए आमंत्रित करता हूं।

पीएम मोदी बोले- भारत में नवीकरणीय ऊर्जा की संभावनाएं सोने की खदान से कम नहीं

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत में सौर, पवन ऊर्जा और बायोगैस जैसी नवीकरणीय ऊर्जा की संभावनाएं किसी सोने की खदान से कम नहीं हैं। सरकार का पूरा ध्यान बायो-ईंधन पर केंद्रित है और निवेशकों के लिए अपार अवसर खोले जाएंगे। उन्होंने कहा कि भारत ने 10 फीसदी एथेनॉल मिश्रण का लक्ष्य निर्धारित तारीख से 5 महीने पहले ही हासिल कर लिया है और यही नहीं, 40 फीसदी गैर-जीवाश्म ईंधन क्षमता का लक्ष्य तय तारीख से 9 साल पहले ही प्राप्त कर लिया गया है।

2014 के बाद से सभी बजटों में वर्तमान चुनौतियों को ध्यान में रखा, नए सुधारों को आगे बढ़ाया- मोदी

मोदी ने कहा कि वर्ष 2014 के बाद से जितने भी बजट आए उनमें न केवल वर्तमान चुनौतियों को ध्यान में रखा गया, बल्कि नए दौर के सुधारों को भी आगे बढ़ाया गया है। उन्होंने कहा कि भारत हर साल 50 लाख टन हरित हाइड्रोजन के उत्पादन का लक्ष्य लेकर चल रहा है और राष्ट्रीय हाइड्रोजन मिशन के तहत निजी क्षेत्र को 19 हजार करोड़ रुपए का प्रोत्साहन दिया गया है।

पीएम मोदी बोले- कबाड़ में तब्दील किए जाएंगे 15 साल से पुराने करीब 3 लाख सरकारी वाहन

आम बजट में वाहनों को कबाड़ में बदलने के लिए 3 हजार करोड़ रुपए का प्रावधान किए जाने और 15 साल से भी पुराने करीब 3 लाख सरकारी वाहनों को कबाड़ में बदलने के निर्णय का भी उन्होंने इस वेबिनार में जिक्र किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत को बैटरी भंडारण क्षमता बढ़ाकर 125 गीगावॉट करनी होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here