Home Education सतीश पूनिया ने फिर छेड़ा रीट पेपर लीक का राग, खुद को...

सतीश पूनिया ने फिर छेड़ा रीट पेपर लीक का राग, खुद को सीएम फेस प्रोजेक्ट करने के दिए संकेत

182
0
सतीश पूनिया ने फिर छेड़ा रीट पेपर लीक का राग, खुद को सीएम फेस प्रोजेक्ट करने के दिए संकेत

The Angle

जयपुर।

बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया आज भरतपुर दौरे पर रहे। यहां पूनिया महारानी श्री जया कॉलेज की छात्रसंघ अध्यक्ष कार्यालय का उद्घाटन करने पहुंचे थे। इस मौके पर सतीश पूनिया ने राजस्थान सरकार पर युवाओं के साथ भेदभाव करने का आरोप लगाया। पूनिया ने कहा कि बेरोजगारी के खिलाफ प्रदेश के छात्र उद्वेलित हैं। यही वजह है कि छात्रसंघ चुनावों में एनएसयूआई को सफलता नहीं मिली। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के हाथ जोड़ो यात्रा पाखंड का जवाब जनता इसी साल नवंबर में देगी।

प्रदेश के छात्र बेरोजगारी को लेकर कांग्रेस सरकार के खिलाफ आक्रोशित- पूनिया

पूनिया ने कॉलेज के छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि छात्रसंघ चुनाव राजनीति का पूर्वाभ्यास है। प्रदेश के छात्र बेरोजगारी को लेकर कांग्रेस सरकार के खिलाफ उद्वेलित हैं और उनमें प्रदेश की सरकार के खिलाफ नाराजगी है। यही वजह है कि प्रदेश की अधिकतर विश्वविद्यालय और महाविद्यालय में छात्रसंघ चुनावों में एनएसयूआई को सफलता नहीं मिली। इसीलिए राज्य सरकार छात्रों के साथ भेदभाव कर रही है। पूरे राजस्थान में राज्य सरकार छात्रों के साथ इसी तरह का बर्ताव कर रही है।

सतीश पूनिया ने फिर छेड़ा रीट परीक्षा में पेपर लीक का राग, एक किस्सा सुनाकर बयां की स्थिति

वहीं पूनिया ने एक बार फिर से रीट परीक्षा में पेपर लीक का राग छेड़ा। बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष ने एक किस्सा सुनाते हुए कहा कि एक बार एक लड़का और लड़की की सगाई हो गई। संयोग से दोनों ने रीट की परीक्षा दी थी। फिर कुछ दिनों बाद डॉ. सुभाष गर्ग के राजीव गांधी स्टडी सर्किल में रीट में चीट हो गई और पेपर कैंसिल हो गया। इसके बाद लड़की ने लड़के से पूछा कि शादी की क्या योजना है, तो लड़के ने कहा कि रीट कैंसिल इसलिए शादी भी कैंसिल।

पूनिया बोले- 5-6 महीने इंतजार करो, फिर मैं कर दूंगा इलाज

बता दें अपने संबोधन में पूनिया ने यह भी दावा किया कि गहलोत सरकार से बेरोजगारों को नौकरी मिलने की उम्मीद नहीं है। इसलिए केवल 5-6 महीने का इंतजार करना है, उसके बाद तो वे इलाज कर देंगे। ऐसे में सियासी गलियारों में चर्चा शुरू हो गई है कि पूनिया इशारों-इशारों में ही सही खुद को सीएम फेस प्रोजेक्ट करने लग गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here