Home Rajasthan अदाणी फाउंडेशन का विद्युत सुरक्षा जागरुकता अभियान जोरों पर,अब तक 1700 विद्यार्थियों...

अदाणी फाउंडेशन का विद्युत सुरक्षा जागरुकता अभियान जोरों पर,अब तक 1700 विद्यार्थियों और ग्राम वासियों को किया जागरुक !

111
0
अदाणी फाउंडेशन जागरुकता अभियान (फाइल फोटो)

अदाणी ग्रुप की अदाणी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड कंपनी, राजस्थान के जैसलमेर जिले में सोलर एवं विंड प्रोजेक्ट के माध्यम से बिजली उत्पादन कर रही है, जिसमें जैसलमेर, जोधपुर, बाड़मेर एवं बीकानेर जिलों में अब तक लगभग 4921 मेगावाट ऑपरेशन व मेंटेनेंस कार्य सुचारू है तथा 600 मेगावाट अंडर कंस्ट्रक्शन है। अन्य कंपनियों के माध्यम से भी जैसलमेर जिले में विद्युत उत्पादन एवं विद्युत वितरण का कार्य किया जा रहा है। आने वाले समय में जैसलमेर जिला सोलर एवं विंड एनर्जी का हब बनने वाला है, जिससे यहाँ पर विद्युत उत्पादन संयंत्रों तथा विद्युत वितरण संयंत्रों का आदित्य रहेगा।

अदाणी फाउंडेशन की बड़ी पहल

अडाणी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड के वाइस प्रेसिडेंट, आलोक चतुर्वेदी ने बताया कि जैसलमेर जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में अदाणी फाउंडेशन तथा ऑपरेशन एंड मेंटेनेंस विभाग द्वारा विद्युत सुरक्षा जागरूकता कार्यक्रम पर ध्यान केंद्रित कर जनता को विद्युतीय दुर्घटनाओं से बचाव पर जागरूक कर रहा है।इस जागरूकता कार्यक्रम के माध्यम से विद्युत उत्पादन, विद्युत वितरण तथा विद्युत से होने वाली दुर्घटनाओं के बचाव के बारे में विद्यालयों में विद्यार्थियों तथा गाँव के लोगों को जागरूक किया जा रहा है।

अदाणी फाउंडेशन की ओर से किया जा रहा जागरुक

अदाणी फाउंडेशन के राजस्थान हेड, गोपाल सिंह देवड़ा ने बताया कि विद्युत सुरक्षा जागरूकता अभियान के माध्यम से जैसलमेर जिले की ग्राम पंचायत रासला, माधोपुरा, लूणा कलान, उत्तम नगर, सनावडा, सांकरा, भैंसडा, बैतीना आदि ग्राम पंचायतों के विद्यालयों में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। इस कार्यक्रम के माध्यम से विद्यार्थियों तथा गाँव वासियों को विद्युत सुरक्षा पद्धति नियमों उपायों के बारे में जागरूक किया जा रहा हैं।

दुर्घटना से बचाव के बारे में जानकारी साझा की

इस जागरूकता अभियान में सीएसआर टीम से एजाज फुलवाडिया और दिनेश शर्मा, एडमिन टीम से संजय बराल और राहुल नायर एवं ऑपरेशन एंड मेंटेनेंस टीम से मनन सिन्हा, शिव वर्मा, विनय कुमार, पी. रामू और उनकी टीम उपस्थित रही। टीम साथ मिलकर प्रत्येक विद्यालय में विद्युत सुरक्षा जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन कर रही है तथा जागरूकता अभियान के माध्यम से लोगों को विद्युत लाइनों तथा विद्युत उत्पादन संयंत्रों से दूरी बनाकर रखने, बिजली लाइन को ना छूने तथा विद्युत लाइनों पर लगे हुए बर्ड रिफ्लेक्टर को ना तोड़ने के लिए जागरूक किया जा रहा है। इसके साथ ही विद्युत सुरक्षा निदेशालय के जनता के लिए सुझाव, दुर्घटना से बचाव व दुर्घटना के बाद के उपायों पर प्रकाश डाला जा रहा है, जिससे लोगों में विद्युत तथा विद्युत से होने वाली दुर्घटनाओं के बारे में जागरूक किया जा सके।

1700 विद्यार्थियों और ग्राम वासियों को किया जागरुक

इस विद्युत सुरक्षा जागरूकता अभियान के माध्यम से अब तक 8 सरकारी विद्यालयों के लगभग 1700 विद्यार्थियों एवं ग्राम वासियों को जागरूक किया जा चुका है। जागरूकता कार्यक्रम में विद्यार्थियों को पॉवर प्रजेंटेशन के माध्यम से विद्युतीय दुर्घटनाओं और दुर्घटना से बचाव तथा उपायों पर जागरूक किया जाता है तथा विद्यार्थियों से प्रश्न-उत्तर कर इनाम भेंट किया जा रहा है। साथ ही, सभी उपस्थित विद्यार्थियों तथा गाँव वासियों को रिफ्रेशमेंट दिया जा रहा है। यह विद्युत सुरक्षा जागरूकता कार्यक्रम निरंतर सुचारू है, जिसके माध्यम से जैसलमेर तथा अन्य जिलों में भी विद्यार्थियों एवं साधारण जनमानस को जागरूक किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here