Home Politics राज्य किसान आयोग अध्यक्ष महादेव सिंह खंडेला का ऐलान, नहीं लड़ेंगे अगला...

राज्य किसान आयोग अध्यक्ष महादेव सिंह खंडेला का ऐलान, नहीं लड़ेंगे अगला चुनाव, बढ़ती उम्र का दिया हवाला

111
0
राज्य किसान आयोग अध्यक्ष का ऐलान, नहीं लड़ेंगे अगला चुनाव, बढ़ती उम्र का दिया हवाला (फाइल इमेज)

The Angle

जयपुर।

कांग्रेस में इन दिनों प्रदेश के आगामी चुनावों को लेकर टिकटों पर मंथन का काम चल रहा है। पार्टी 21 अगस्त से ब्लॉक लेवल से टिकट के दावेदारों से आवेदन लेना शुरू करेगी जो कि चरणबद्ध रूप से आगे पीसीसी तक पहुंचेंगे। इसके बाद दावेदारों का हर सीट पर 3 से 5 लोगों का एक पैनल तैयार किया जाएगा, जिनमें से टिकट फाइनल किए जाएंगे। ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि कांग्रेस पार्टी सितंबर के दूसरे हफ्ते में अपनी उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी कर सकती है।

अगला चुनाव नहीं लड़ने का किया ऐलान, 2018 में निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में लड़ा था चुनाव

इस बीच सीकर के खंडेला से निर्दलीय विधायक और राज्य किसान आयोग के अध्यक्ष महादेव सिंह खंडेला ने बड़ा ऐलान कर दिया है। उन्होंने कहा है कि वे आगामी चुनाव नहीं लड़ेंगे। इसके लिए उन्होंने अपनी उम्र का हवाला दिया है। बता दें खंडेला को पिछली बार 2018 के चुनाव में कांग्रेस ने टिकट नहीं दिया था। ऐसे में महादेव सिंह खंडेला निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर उचुनावी मैदान में उतरे और जीत दर्ज की थी। इसके बाद उन्होंने कांग्रेस की गहलोत सरकार को अपना समर्थन दिया था। वहीं सरकार ने भी उन्हें राज्य किसान आयोग का अध्यक्ष बनाया था।

महादेव से पहले भी कई नेता अगला चुनाव नहीं लड़ने का कर चुके ऐलान

वैसे महादेव सिंह पहले ऐसे नेता नहीं हैं जिन्होंने अगला चुनाव नहीं लड़ने का ऐलान किया हो। इससे पहले कोटा के सांगोद से विधायक भरतसिंह कुंदनपुर भी अगला चुनाव नहीं लड़ने की बात कह चुके हैं. इसके अलावा बाड़मेर के गुड़ामलानी से विधायक और राज्य सरकार में कैबिनेट वन एवं पर्यावरण मंत्री हेमाराम चौधरी भी अगला चुनाव नहीं लड़ने की इच्छा जता चुके हैं। इसी तरह पिछले दिनों पूर्व विधानसभा अध्यक्ष और सचिन पायलट खेमे के झुंझुनूं की श्रीमाधोपुर सीट से विधायक दीपेंद्र सिंह शेखावत और बाड़मेर के शिव से विधायक अमीन खां भी अगला चुनाव नहीं लड़ने की बात कह चुके हैं।

शांति धारीवाल-बीडी कल्ला जैसे नेताओं को लेकर भी चर्चा शुरू

इसके अलावा एक खास बात ये भी है कि अभी तक जितने भी नेताओं ने अगला चुनाव नहीं लड़ने की इच्छा जाहिर की है, उनमें से ज्यादातर ने अपनी अधिक उम्र का हवाला दिया है। ऐसे में मंत्री शांति धारीवाल, बीडी कल्ला जैसे उम्रदराज नेताओं को लेकर भी चर्चा होने लगी है। वहीं पिछले दिनों बीडी कल्ला ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा था कि वे अगला चुनाव लड़ने के लिए पूरी तरह फिट हैं और चुनाव लड़ने के लिए तैयार हैं। ऐसे में क्या पार्टी इन नेताओं को टिकट देगी, ये देखना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here