Home National चीन ने अरुणाचल और अक्साई चिन को बताया अपना हिस्सा,कांग्रेस सांसद का...

चीन ने अरुणाचल और अक्साई चिन को बताया अपना हिस्सा,कांग्रेस सांसद का बड़ा बयान आया सामने

82
0
मनीष तिवारी (फाइल फोटो)

चीन ने एक बार फिर से अपनी नापाक हरकत दिखाई है .इस बार चीन ने एक बार फिर से अपने नक्शे में अरुणाचल प्रदेश को चीन का हिस्सा बताया है . नेचुरल रिर्सोसेस मिनिस्ट्री की ओर से होस्ट की जाने वाली स्टैंडर्ड मैप सर्विस की वेबसाइट पर भी नया मैप लॉन्च किया गया है। यह मैप चीन और दुनिया के विभिन्न देशों की सीमाओं की ड्रॉइंग पद्धति के आधार पर तैयार किया गया है। चाइना ने इसमें भारत के अरुणाचल प्रदेश, अक्साई चीन, ताइवान और विवादित दक्षिण चीन सागर को भी अपने क्षेत्र में दिखाया है।वही इस मामले में कांग्रेस नेता ने चीन को लेकर बड़ा बयान दिया है

कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी का बड़ा बयान

सांसद मनीष तिवारी ने इस मामले पर आज बयान जारी किया है .उन्होंने कहा कि चीन का अरुणाचल पर कोई दावा नहीं है .साथ ही तिवारी ने चीनी मानचित्र को बेतुका बताया है.आपको बता दे उनकी यह प्रतिक्रिया चीन द्वारा अधिकारिक तौर पर अपने मानक मानचित्र 2023 को जारी करने के कुछ ही घंटों बाद आई है .तिवारी ने कहा कि चीन भारत सीमा विवाद के इतिसाह के साथ मेल नहीं खाते है .चीन ने हमेशा इस तरह के नक्शे जारी करके विवादित क्षेत्रों को अपनी सीमा में ही दर्शाया है .

कांग्रेस सासंद की सरकार को खरी-खरी

सांसद मनीष तिवारी ने कहा, ‘चीनी दावे की बेतुकी बात चीन-भारत सीमा विवाद के इतिहास से प्रमाणित होती है. आज भारत और चीन के बीच असली मुद्दा यह है कि चीनियों ने सीमा का उल्लंघन किया है.’ सांसद मनीष तिवारी ने कहा कि ऐसी परिस्थितियों में सरकार को गंभीरता से आत्मनिरीक्षण करना चाहिए कि क्या आगामी जी-20 शिखर सम्मेलन के लिए दिल्ली में राष्ट्रपति शी जिनपिंग की मेजबानी करना भारत के स्वाभिमान के अनुरूप होगा. चीन ने एलएसी के साथ 2000 वर्ग किलोमीटर भारतीय क्षेत्र पर अवैध कब्जा कर रखा है, जिसे खाली करने की जरूरत है.

भारतीय विदेश मंत्रालय की प्रतिक्रिया आई सामने

भारतीय विदेश मंत्रालय ने भी जारी किया बयान भारतीय विदेश मंत्रालय ने चीन की इस हरकत पर पलटवार किया। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा था- हमारे सामने चीन की इस तरह की हरकतों की रिपोर्ट्स पहले भी आई हैं। हम इन नए नामों को सिरे से खारिज करते हैं। अरुणाचल प्रदेश भारत का आतंरिक हिस्सा था, हिस्सा है और रहेगा। इस तरह से नाम बदलने से हकीकत नहीं बदलेगी। वही चीन के इस दावे के बाद शिवसेना उद्धव गुट के सांसद संजय राउत बोले कि कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने हाल ही में कहा था कि लद्दाख के पैंगोंग घाटी में चीन ने घुसपैठ की है। मतलब राहुल गांधी ने लद्दाख दौरे पर चीन को लेकर जो बातें कही थीं, वो स

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here