Home Crime पीएम मोदी ने विपक्ष के सदन के हंगामे को लेकर बोला हमला,...

पीएम मोदी ने विपक्ष के सदन के हंगामे को लेकर बोला हमला, विपक्ष ने किया पलटवार

105
0
पीएम मोदी ने विपक्ष के सदन के हंगामे को लेकर बोला हमला, विपक्ष ने किया पलटवार

The Angle

नई दिल्ली।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विपक्षी गठबंधन पर दिए बयान को लेकर पलटवार किया है। राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी आप जो चाहें कह लीजिए, हम INDIA हैं। दरअसल पीएम मोदी ने बीजेपी की संसदीय दल की बैठक में विपक्षी गठबंधन (I.N.D.I.A) पर निशाना साधा था। पीएम मोदी ने कहा था कि इंडिया नाम लगा लेने से ही नहीं हो जाता। ईस्ट इंडिया कंपनी ने भी इंडिया लगाया था और इंडियन मुजाहिद्दीन के नाम में भी इंडिया है।

मणिपुर हिंसा पर राहुल गांधी बोले- आप हमें जो चाहें बुला लें, हम भारत हैं

राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि ‘आप हमें जो चाहें बुला लें, हम भारत हैं। हम मणिपुर को ठीक करने और हर महिला और बच्चे के आंसू पोंछने में मदद करेंगे। हम राज्य के सभी लोगों के लिए प्यार और शांति वापस लाएंगे। हम मणिपुर में भारत के विचार का पुनर्निर्माण करेंगे। बता दें पीएम मोदी ने बीजेपी सांसदों को संबोधित करते हुए कहा था कि विपक्ष बिखरा हुआ और हताश है। विपक्ष के रवैए से ऐसे लग रहा है कि उनको लंबे समय तक सत्ता में आने की इच्छा नहीं है। पीएम मोदी ने कहा कि इंडिया नाम लगा लेने से ही नहीं हो जाता। ईस्ट इंडिया कंपनी ने भी इंडिया लगाया था और इंडियन मुजाहिद्दीन के नाम में भी इंडिया है।

खड़गे बोले- संसद में 267 के तहत पहले भी चुकी है चर्चा, फिर मणिपुर पर क्यों नहीं ?

इसके साथ ही कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष और राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने भी पीएम मोदी पर पलटवार किया। खड़गे ने कहा कि इतने सारे प्रतिनिधि संसद में 4 दिन से नियम 267 के तहत नोटिस दे रहे हैं। ऐसा पहली बार नहीं है। इस सदन में बीजेपी सरकार के दौरान ही 267 के तहत चर्चा हो चुकी है। कांग्रेस सरकार में भी 267 के तहत चर्चा हो चुकी है। लेकिन आज मणिपुर जल रहा है, वहां रेप हो रहे हैं। आज हम मणिपुर की बात कर रहे हैं। पीएम ईस्ट इंडिया की बात कर रहे हैं। इंडिया मीन्स ईस्ट इंडिया बोल रहे हैं।

प्रियंका गांधी बोलीं- नकारात्मक नहीं, सकारात्मक राजनीति चाहते हैं देश के लोग

वहीं कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी से ट्विटर के जरिए सवाल पूछा। उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि प्रधानमंत्री जी इतनी नकारात्मकता क्यों ? Indian National Developmental Inclusive Alliance (INDIA) के मूल में संविधान की भावना है। देश के युवाओं को रोजगार, जनता को महंगाई से राहत, हर तबके की खुशहाली, किसानों-श्रमिकों की भलाई, महिलाओं को सुरक्षा औरसहायता, देश में एकता, प्रेम और शांति का सकारात्मक एजेंडा है। राजनीति के चलते INDIA के लिए आपने नकारात्मक और अपमानजनक रुख अपना रखा है। उन्होंने आगे लिखा कि बार-बार देश के नाम के साथ नकारात्मक मायने जोड़ना आपके पद की गरिमा के प्रति उचित नहीं है। देश के लोग नकारात्मक नहीं, सकारात्मक राजनीति चाहते हैं। संसद में मणिपुर पर देश आपकी बात सुनना चाहता है। देश महंगाई और बेरोज़गारी पर जवाब चाहता है।

मणिपुर हिंसा पर पीएम मोदी के बयान के साथ विस्तृत चर्चा चाहता है विपक्ष

गौरतलब है कि देश के पूर्वोत्तर में स्थित राज्य मणिपुर में 3 मई से हिंसा जारी है। पिछले दिनों मणिपुर का एक वीडियो वायरल हुआ था। इसमें भीड़ 2 महिलाओं के साथ यौन दुराचार करती हुई नजर आ रही थी। ये वीडियो 4 मई का है। यही मुद्दा संसद के मानसून सत्र में छाया हुआ है। विपक्ष इस मुद्दे पर संसद में पीएम मोदी का बयान और विस्तृत चर्चा की मांग कर रहा है, जबकि सरकार गृहमंत्री अमित शाह के जवाब के साथ अल्पकालिक चर्चा के लिए तैयार है। लेकिन विपक्ष इस मुद्दे पर पीएम मोदी के बयान पर अड़ा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here