Home Crime भीलवाड़ा गैंगरेप कर नाबालिग को जलाने के मामले में पुलिस जल्द से...

भीलवाड़ा गैंगरेप कर नाबालिग को जलाने के मामले में पुलिस जल्द से जल्द पेश करेगी चालान

90
0
भीलवाड़ा गैंगरेप कर नाबालिग को जलाने के मामले में पुलिस जल्द से जल्द पेश करेगी चालान

The Angle

जयपुर।

भीलवाड़ा जिले के कोटड़ी थाना क्षेत्र में एक नाबालिग बालिका के साथ गैंगरेप और भट्टी में जलाने की घटना को लेकर अजमेर रेंज आईजी लता मनोज कुमार मीडिया से मुखातिब हुईं। इस दौरान उन्होंने कहा कि यह बहुत दुःखद घटना हुई है। इसमें अब तक 4 लोगों को अरेस्ट करते हुए 1 बाल अपचारी को निरूद्ध किया गया है। इस घटना का कोई चश्मदीद गवाह नहीं है, इसलिए हमारी इन्वेस्टिगेशन, ओरल, फिजिकल और साइंटिफिक टीम काम कर रही है।

आईजी लता मनोज ने बताया- भीलवाड़ा मामले में 4 लोग गिरफ्तार, एक की पत्नी से पूछताछ जारी

वहीं जयपुर से स्टेट एफएसएल की टीम यहां आ रही है। वे घटना स्थल का मौका मुआयना करेगी। वहीं आईजी लता मनोज ने इस मामले में अब तक कुछ मुल्जिमों के पुलिस की पकड़ से बाहर होने की भी बात कही। उनमें आज 2 महिलाओं को और हिरासत में लिया गया है। जो पूर्व में 4 लोग गिरफ्तार हुए हैं, उनमें से एक की पत्नी को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। पुलिस की कोशिश है कि इस मामले में कम से कम समय में अनुसंधान पूरा करके विधिक प्रक्रिया अपनाकर अदालत में चालान पेश करें।

अजमेर रेंज आईजी ने भीलवाड़ा के कोटड़ी में धरना दे रहे लोगों को दिया आश्वासन

अजमेर रेंज आईजी लता मनोज कुमार ने कहा कि हमारी यह कोशिश रहेगी कि जल्द से जल्द इस केस की ‘स्पेशल केस ऑफिसर स्कीम’ में स्पेशल पीपी कर सुनवाई करवाएंगे और मुल्जिमों को जो कानून में प्रावधान है, उनके आधार पर कड़ी से कड़ी सजा दिलवाने का प्रयास करेंगे। साथ ही जो लोग कोटड़ी में धरना दे रहे हैं, उनको भी अजमेर रेंज आईजी ने आश्वस्त करते हुए कहा कि पुलिस बिल्कुल सही काम कर रही है। 15 दिन में इस मामले की जांच पूरी कर 20 दिन में न्यायालय में चालान पेश कर सजा दिलाने का प्रयास किया जाएगा।

सीएम गहलोत ने पुलिस को दिए मामले में सख्ती बरतने के निर्देश

बता दें आज जयपुर में आयोजित एक कार्यक्रम के बाद मीडिया से रूबरू होते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी मामले में सख्ती बरतने और महिलाओं-लड़कियों को परेशान करने वाले मनचलों पर पुलिस को सख्त कार्रवाई करने के निर्देश देने की बात कही थी। गौरतलब है कि कल ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने आवास पर पुलिस विभाग के आला अधिकारियों के साथ प्रदेश का कानून व्यवस्था की समीक्षा की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here