Home Education अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर राजस्थान के 9 जिलों में प्रोजेक्ट...

अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर राजस्थान के 9 जिलों में प्रोजेक्ट प्रगति शिविरों का आयोजन

70
0
अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर राजस्थान के 9 जिलों में प्रोजेक्ट प्रगति शिविरों का आयोजन

The Angle

जयपुर।

गैर लाभकारी संस्था एजुकेट गर्ल्स ने इस वर्ष अंतराष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर प्रोजेक्ट प्रगति शिविर का आयोजन किया। संस्था की प्रोजेक्ट प्रगति शिविर का ये चौथा वर्ष है जिसकी शुरुआत 2021 में हुई थी। राजस्थान राज्य ओपन स्कूल के तहत कक्षा 10 वी में नामांकित 14-29 वर्ष की लगभग 9000 किशोरियों और युवा महिलाओं के लिए जयपुर, अजमेर, जोधपुर, बीकानेर, जैसलमेर, बाड़मेर, पाली, बारां, दौसा इन 9 जिलों में प्रोजेक्ट प्रगति शिविरों का आयोजन किया है।

प्रोजेक्ट प्रगति की एसोसिएट डायरेक्टर गीतिका हिगिंस ने बताया, “हम प्रोजेक्ट प्रगति के तहत सरकारी ओपन स्कूल प्रणाली के ज़रिए स्कूल न जाने वाली किशोरियों और युवा महिलाओं को शिक्षा से वापस जोड़ने का प्रयास कर रहे है। शिक्षा के माध्यम से युवा महिलाओं को शिक्षा के साथ कौशल प्रशिक्षण दे कर उन्हे सक्षम बना सकते है ताकि वे अपने निर्णय और विकल्पों का चयन खुद कर सकें।”

जिले के प्रत्येक गांव में प्रोजेक्ट प्रगति शिविरों में युवा महिला छात्रों के समूहों का मार्गदर्शन किया जाएगा। उन्हें व्यक्तिगत संपर्क कार्यक्रमों के माध्यम से जोड़ा जाएगा और यह सुनिश्चित करेंगे की 100% छात्रा परीक्षाओं में भाग ले और सफलतापूर्वक परीक्षाएँ पूरी करे। प्रोजेक्ट प्रगति का उद्देश्य इस कार्यक्रम में सामुदायिक भागीदारी सुनिश्चित करना और युवा महिला स्कूल जा कर पढ़ सकें इसलिए प्रयास करना है। प्रोजेक्ट प्रगति के तहत 10वीं कक्षा पूरी करने के बाद इन छात्रों को करियर और आजीविका के अवसरों पर मार्गदर्शन भी प्राप्त होगा। प्रोजेक्ट प्रगति को राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में पांच साझेदारों द्वारा क्रियान्वित किया जा रहा है जिसमे अजमेर से अंताक्षरी फाउंडेशन, बाड़मेर से बाड़मेर महिला मण्डल बाडमेर आगोर, जयपुर से जन कला साहित्य मंच संस्था, बीकानेर, जोधपुर, जैसलमेर से उरमूल ट्रस्ट और जोधपुर से सहज संस्थान शामिल है।

एजुकेट गर्ल्स के बारे में: एजुकेट गर्ल्स एक गैर-लाभकारी संस्था है, जो भारत के सबसे दूर दराज और ग्रामीण इलाकों में बालिकाओं की शिक्षा के लिए समुदायों को प्रेरित करती है। सरकार के साथ साझेदारी में काम करते हुए एजुकेट गर्ल्स वर्तमान में राजस्थान, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश के 21,000 से अधिक गांवों में सफलतापूर्वक कार्यरत है। सामुदायिक स्वयंसेवकों की बड़ी संख्या को सहभागी बनाते हुए, एजुकेट गर्ल्स स्कूल से वंचित बालिकाओं की पहचान, नामांकन, और स्कूलों में ठहराव बनाए रखने और सभी बच्चों (बालिकाओं और बालकों) के लिए साक्षरता और अंक गणितीय योग्यता में बुनियादी सुधार के लिए मदद करती है। अधिक जानकारी के लिए: www.EducateGirls.ngo | Facebook | LinkedIn | Twitter | Instagram
| Blog | YouTube

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here