Home Politics राजस्थान विधानसभा चुनाव 2023 : आज नामांकन वापसी का आखिरी दिन, कांग्रेस-भाजपा...

राजस्थान विधानसभा चुनाव 2023 : आज नामांकन वापसी का आखिरी दिन, कांग्रेस-भाजपा बागियों को मनाने में जुटी

362
0
राजस्थान विधानसभा चुनाव 2023 : आज नामांकन वापसी का आखिरी दिन, कांग्रेस-भाजपा बागियों को मनाने में जुटी

The Angle

जयपुर।

राजस्थान विधानसभा चुनाव को लेकर आज नामांकन वापस लेने का आखिरी दिन है। ऐसे में भाजपा और कांग्रेस दोनों ही प्रमुख राजनीतिक दलों में पार्टी के बागी नेताओं को मनाने की कवायद जारी है। कांग्रेस की तरफ से जहां पार्टी के वरिष्ठ नेता मुकुल वासनिक बागियों को मनाने में जुटे हैं, वहीं भाजपा की तरफ से भी कई दिग्गज नेता इसी मशक्कत में लगे हुए हैं। इस बीच कांग्रेस को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के गृह जिले जोधपुर में एक सफलता मिली है।

कांग्रेस को जोधपुर में मिली सफलता, रामेश्वर दाधीच को मनाने में कामयाब रही पार्टी

यहां पार्टी ने सूरसागर सीट से कांग्रेस से बागी होकर निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नामांकन दाखिल करने वाले रामेश्वर दाधीच को मनाने में कामयाब हो गई है। जानकारी के मुताबिक रामेश्वर दाधीच कांग्रेस के आधिकारिक प्रत्याशी शाहबाज खान के समर्थन में नामांकन वापस लेने के लिए तैयार हो गए हैं। बता दें रामेश्वर दाधीच जोधपुर कांग्रेस में सीएम के विश्वस्त लोगों में से एक हैं और मुख्यमंत्री के हमशक्ल के रूप में खासे चर्चित हैं। वहीं वे पूर्व में जोधपुर के महापौर भी रह चुके हैं।

राजपाल सिंह शेखावत ने किया नामांकन वापस लेने का ऐलान

वहीं भाजपा के बागी नेताओं की बात करें तो जयपुर की झोटवाड़ा विधानसभा सीट से पार्टी से बागी होकर निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नामांकन दाखिल करने वाले राजपाल सिंह शेखावत ने नामांकन वापस लेने का ऐलान कर दिया है। उन्होंने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस बात की जानकारी दी। बताया जा रहा है कि शेखावत ने राज्यवर्धन सिंह राठौड़ के समर्थन में नामांकन वापस लेने की बात की है, जो कि झोटवाड़ा से भाजपा के टिकट पर इस बार चुनावी मैदान में हैं। हालांकि राजनीतिक जानकारों का मानना है कि इससे पार्टी को कोई खास फायदा नहीं होने वाला है क्योंकि अभी भी बागी नेता आशूसिंह सूरपुरा राज्यवर्धन को सीधी टक्कर दे रहे हैं।

राजनीतिक दलों के पास आज दोपहर 3 बजे तक का समय

बहरहाल तमाम राजनीतिक दलों के पास आज दोपहर 3 बजे तक का समय है, जब वे अपने बागी नेताओं को नामांकन वापस लेने के लिए मना सकते हैं। इसके बाद राजस्थान के चुनावी रण में किस सीट पर कितने उम्मीदवार मैदान में हैं, ये तस्वीर पूरी तरह साफ हो जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here