Home Politics पीएम मोदी के सीकर दौरे पर पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा का...

पीएम मोदी के सीकर दौरे पर पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा का पलटवार, हर हमले का दिया जवाब

96
0
पीएम मोदी के सीकर दौरे पर पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा का पलटवार, हर हमले का दिया जवाब

The Angle

जयपुर।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सीकर दौरे पर एक दिन बाद कांग्रेस ने पलटवार करते हुए बीजेपी पर तीखा हमला बोला। साथ ही पूछा कि प्रदेश की जनता बीजेपी को क्यों वोट दें ? कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि पीएम मोदी हमारी गारंटियों का मजाक बना रहे हैं और खुद की घोषणाओं को गारंटी बता रहे हैं, जबकि सच्चाई तो यह है कि वो राजस्थान को कोई गारंटी नहीं देकर गए हैं।

गोविंद डोटासरा ने पूछा- जब पीएम मोदी कोई गारंटी नहीं दे गए तो भाजपा को क्यों वोट दे जनता ?

प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पीसीसी चीफ डोटासरा ने कहा कि प्रदेशवासियों को ईआरसीपी और महंगाई कम करने की गारंटी चाहिए थी। लोगों को साल 2014 में उठाए मुद्दों पर गारंटी चाहिए थी। लेकिन वो राजस्थान के लोगों को कोई गारंटी नहीं देकर गए, ऐसे में यहां की जनता बीजेपी को क्यों वोट दे। सीकर में हुई मोदी की चुनावी जनसभा को डोटासरा ने फेल करार देते हुए कहा कि इस सभा का प्रदेश की जनता पर कोई असर नहीं हुआ है। उनके डबल इंजन की सरकार के दावे खोखले हैं।

पीएम मोदी पर बोला हमला- महंगाई रोकने के लिए क्या कर रही सरकार, इसकी गारंटी चाहिए थी

उन्होंने कहा कि लोगों को जातिगत जन गणना की गारंटी चाहिए थी। साल 2011 से 2015 में बीच में जो जनगणना हुई थी, उसे आंकड़े सार्वजनिक करें। 2021 में होने वाली जनगणना 2023 में भी चालू नहीं हुई, लोगों को इस बात की गारंटी चाहिए थी। महंगाई कम करने के लिए मोदी सरकार क्या कर रही है, इस बात की गारंटी चाहिए थी। पीएम मोदी ने 2 करोड़ लोगों की नौकरी का वादा किया था, उन लोगों की नौकरी लगी या नहीं और कब तक लगेगी। इस बात की गारंटी चाहिए थी। चीन जो हमारी जमीन पर कब्जा जमाए बैठा है, वो कब हटेगा। पाकिस्तान को लाल आंख दिखाकर आप कब आतंकवाद खत्म करेंगे, इस बात की गारंटी चाहिए थी। साल 2014 में उन्होंने जो मुद्दे उठाए, उन पर पीएम मोदी एक भी शब्द नहीं बोले और हमारी योजनाओं का मजाक उड़ाकर चले गए।

2023 में 4 राज्यों में होने हैं विधानसभा चुनाव, वहां हार रही भाजपा- पीसीसी चीफ

गोविंद डोटासरा ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री लगतार जनता को गुमराह करने में लगे हुए हैं। लेकिन राजस्थान की जनता उनके झांसे में आने वाली नहीं है। उनके भाषण में ऐसी कोई खास बात नहीं थी कि लोग बीजेपी को जिताकर डबल इंजन की सरकार बनाएं। लेकिन मुझे लगता है कि अब ऊपर का इंजन भी गायब होने वाला है और राजस्थान में तो इंजन ही नहीं है। उन्होंने कहा कि 2023 में जिन 4 राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं, वहां पर बीजेपी हार रही है और हम जीत रहे हैं। अगर ऐसा हो गया तो मोदी के लिए 2024 का लोकसभा चुनाव बड़ी मुश्किलभरा होगा। मोदी के भाषण से प्रदेश को कुछ भी नहीं मिला, वो चुनावी सभा करके यहां से चले गए।

मणिपुर हिंसा पर गोविंद डोटासरा ने पूछा- क्या ऐसी होती है डबल इंजन की सरकार ?

मणिपुर मुद्दे पर डोटासरा ने कहा कि वहां हालात पूरी तरह बेकाबू हैं। लेकिन मणिपुर की बीजेपी सरकार और केंद्र की मोदी सरकार हाथ पर हाथ रखकर बैठी हुई है। बीजेपी की डबल इंजन की सरकार ने अभी तक मणिपुर में हिंसा रोकने के लिए कोई एक्शन नहीं लिया है। ऐसे में बड़ा सवाल ये है कि क्या ऐसी होती है डबल इंजन की सरकार ? मोदी सरकार को मणिपुर के हालात पर एक्शन लेना चाहिए, ताकि मणिपुर में शांति व्यवस्था कायम की जा सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here