Home Crime कानून व्यवस्था को लेकर बोले राज्यवर्धन सिंह राठौड़- अब हमें राज्य सरकार...

कानून व्यवस्था को लेकर बोले राज्यवर्धन सिंह राठौड़- अब हमें राज्य सरकार से कोई उम्मीद नहीं

81
0
कानून व्यवस्था को लेकर बोले राज्यवर्धन सिंह राठौड़- अब हमें राज्य सरकार से कोई उम्मीद नहीं

The Angle

जयपुर।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने हाल ही में पुलिस मुख्यालय में बैठक लेकर प्रदेश की कानून व्यवस्था की समीक्षा की थी। इस दौरान मुख्यमंत्री गहलोत ने नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो के ही आंकड़ों का तुलनात्मक ब्यौरा देते हुए बताया था कि राजस्थान की कानून व्यवस्था में सुधार हुआ है। यही नहीं उन्होंने यह भी कहा था कि अन्य पड़ोसी राज्यों की तुलना में भी राजस्थान में अपराध कम हुए हैं और विभिन्न श्रेणियों के अपराधों में पुलिस का रेस्पॉन्ड टाइम भी काफी बेहतर है।

भाजपा ने कानून व्यवस्था के दावे को लेकर सीएम गहलोत पर किया पलटवार

सीएम गहलोत के इस दावे पर भाजपा ने पलटवार किया है। जयपुर स्थित भाजपा मुख्यालय में मीडिया से रूबरू होते हुए पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने सीएम गहलोत के इस दावे को लेकर अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में लगातार क्राइम ग्राफ बढ़ता जा रहा है, सभी जिलों में कानून व्यवस्था का हाल बेहाल है। ‘कांग्रेस सरकार पीड़ित परिवारों की आंखों में आंख डालकर बात करे कि यह आंकड़े गलत हैं। प्रदेश सरकार से हमें कोई उम्मीद नहीं है, अब जो भी करेगी जनता करेगी।

राज्यवर्धन सिंह राठौड़ बोले- राज्य सरकार कानून व्यवस्था सुधारने की बजाय गलत आंकड़े कर रही पेश

राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि राजस्थान के हर जिले में क्राइम और करप्शन जिले का दम तोड़ रहा है। उन्होंने भी सीएम गहलोत की ही तरह नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो के आंकड़े साझा करते हुए बताया कि राजस्थान में महिला दुष्कर्म के अब तक 6 हजार मामले सामने आ चुके हैं, जबकि उत्तर प्रदेश में ये आंकड़ा 2800 और मध्यप्रदेश में 2900 है। उन्होंने दावा किया कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार कानून व्यवस्था सुधारने की अपनी जिम्मेदारी निभाकर गलत आंकड़े पेश कर रही। इसी तरह पूरे देश में 6 साल से कम उम्र के बच्चों के साथ रेप और बेटियों से दुष्कर्म के मामलों में भी राजस्थान देश में अव्वल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here