Home National कर्नाटक चुनाव में प्रचार अभियान का शोर थमा, केंद्रीय मंत्री अमित शाह...

कर्नाटक चुनाव में प्रचार अभियान का शोर थमा, केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने कांग्रेस से पूछा एक सवाल

118
0
कर्नाटक चुनाव में प्रचार अभियान का शोर थमा, केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने कांग्रेस से पूछा एक सवाल (फाइल इमेज)

The Angle

नई दिल्ली/बेंगलुरु।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दावा किया है कि कर्नाटक में भाजपा की सरकार बनने जा रही है। केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कर्नाटक के सभी क्षेत्रों में मेरा दौरा हुआ है। सभी क्षेत्रों में भाजपा के प्रति रूझान, उत्साह और समर्थन गत चुनाव की सापेक्ष में बहुत बड़ा है। भाजपा वहां पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाएगी।

कर्नाटक में लागू 4 फीसदी मुस्लिम आरक्षण को बताया असंवैधानिक

कांग्रेस पर हमला करते हुए अमित शाह ने कहा कि 4% मुस्लिम आरक्षण हमारी पार्टी ने ही खत्म किया है क्योंकि वो गैर-संवैधानिक था। हमारे संविधान में धर्म के आधार पर आरक्षण का कोई प्रावधान नहीं है। कांग्रेस ने तुष्टिकरण की नीति के तहत ये मुस्लिम आरक्षण किया था, जिसको हमने हटा दिया है। उन्होंने कहा कि मैं इतना ही कहना चाहता हूं कि अगर आप मुस्लिम आरक्षण को 4% से बढ़ाकर 6% करना चाहते हो, तो कांग्रेस पार्टी को ये स्पष्ट करना चाहिए कि वो किसका कम करेंगे। वो OBC, SC, ST, लिंगायत या फिर वोकलिंगा, किसका कम करेंगे ?

अमित शाह बोले- एससी के आरक्षण के भीतर मौजूदा आरक्षण नहीं हटेगा

केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि आरक्षण के भीतर आरक्षण हमने बहुत सोच समझकर किया है। हमने अनुसूचित जनजाति के आरक्षण के भीतर आरक्षण में कुछ लिमिट तय किए हैं। इसे कांग्रेस हटाना चाहती है। मगर मैं ये स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि SC के आरक्षण के भीतर जो आरक्षण हैं, वो नहीं हटेगा।

कर्नाटक चुनाव के लिए प्रचार अभियान का शोर थमा

गौरतलब है कि कर्नाटक में 10 मई को विधानसभा चुनाव हैं। चुनाव के लिए जारी प्रचार अभियान का शोर आज थम गया। बता दें इस बार के चुनाव में सत्तारूढ़ भाजपा फिर से सत्ता में वापसी के लिए तो वहीं कांग्रेस उसे पटखनी देने के लिए जोर आजमाइश कर रही है। राज्य की तीसरी सबसे बड़ी ताकत बने जनता दल (सेक्युलर) ने भी मतदाताओं को रिझाने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। भाजपा से सत्ता छीनने के लिए कांग्रेस अपनी ओर से कड़ी मेहनत कर रही है और 2024 के लोकसभा चुनावों के लिए मुख्य विपक्षी दल के रूप में अपनी स्थिति को मजबूत करने का प्रयास कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here