Home Crime भाजपा प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह ने भरतपुर को बताया पेपर लीक का...

भाजपा प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह ने भरतपुर को बताया पेपर लीक का अड्डा, महिला अत्याचारों पर सरकार को घेरा

127
0
भाजपा प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह ने भरतपुर को बताया पेपर लीक का अड्डा, महिला अत्याचारों पर सरकार को घेरा

The Angle

जयपुर।

प्रदेश में महिलाओं और नाबालिग बच्चियों के साथ अपहरण और सामूहिक दुष्कर्म के मामले हाल के दिनों में बढ़े हैं। वहीं भीलवाड़ा में किशोरी को गैंगरेप कर भट्टी में जलाने के मामले को लेकर पहले ही सियासत जोरों पर है। ऐसे में भरतपुर के दौरे पर पहुंचे भाजपा के प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह ने ऐसी तमाम घटनाओं और प्रदेश की दिनोंदिन बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर सूबे की अशोक गहलोत को निशाने पर लिया। अरुण सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री गहलोत में जरा भी नैतिकता बची है तो उन्हें अविलंब गृह मंत्री के पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने भरतपुर को पेपर लीक का गढ़ बताते हुए कहा कि आरोपियों को संरक्षण देने वाले लोग यहां बैठे हैं। वहीं उन्होंने आगे कहा कि अबकी बार कांग्रेस की इतनी बुरी हार होगी कि अगले 20-25 सालों तक पार्टी सत्ता में नहीं आएगी।

भरतपुर में भाजपा प्रभारी ने मांगा सीएम गहलोत से इस्तीफा

प्रदेश भाजपा प्रभारी अरुण सिंह ने कहा कि प्रदेश में ऐसी-ऐसी घटनाएं हो रही हैं, जो पूरे देश में और कहीं नहीं हो रही हैं। प्रदेश में नाबालिग बच्चियों के साथ अपहरण, सामूहिक दुष्कर्म, हत्या, एसिड डालकर जलाना, आग में फेंकने जैसी घटनाएं हो रही हैं। इन घटनाओं के बावजूद सीएम गहलोत हंसता हुआ चेहरा दिखा रहे हैं। मुख्यमंत्री के पास ही गृह विभाग भी है। यदि उनमें थोड़ी सी भी नैतिकता बची है तो उन्हें तत्काल गृह मंत्री के पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।

साढ़े 4 साल बाद भी सिर्फ रेवड़ी बांटने में मशगूल है सरकार- अरुण सिंह

वहीं प्रदेश के विधानसभा चुनावों को लेकर अरुण सिंह ने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस सरकार का जाना तय है, लेकिन यह भी तय है कि अगले 20-25 सालों तक ये सत्ता में वापसी नहीं कर पाएंगे। यहां तक कि कांग्रेस सत्ता में आने के सपने भी नहीं देख सकेगी। भाजपा प्रभारी ने कहा कि सत्ता में साढ़े 4 साल पूरे होने के बाद भी गहलोत सरकार केवल और केवल रेवड़ी बांटने में मशगूल है। उन्होंने कहा कि राजस्थान सरकार ने टैंट और कुर्सी की कीमत से कई गुना ज्यादा किराया दिया है। इसमें बहुत बड़ा घोटाला है। वहीं उन्होंने कहा कि भरतपुर पेपर लीक का अड्डा है।

पेपर लीक मामले में जिनको पकड़ा जाता है, बड़े-बड़े वकील उनको छुड़ाने का काम करते हैं। युवाओं के भविष्य की चिंता नहीं है। पेपर लीक के आरोपी पकड़े जाते हैं, तो उन्हें बचाने के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से बात करके सलमान खुर्शीद वकील बनकर खड़े होते हैं।

अरुण सिंह ने कहा- जमीनें नीलाम हो रहीं, किसान कभी नहीं करेंगे माफ

इसके साथ ही अरुण सिंह ने कांग्रेस की ओर से किए गए किसान कर्जमाफी के वादे को लेकर भी राज्य सरकार को घेरा। उन्होंने कहा कि आज किसानों की जमीन नीलाम हो रही हैं। किसान इन्हें कभी माफ नहीं करेंगे। प्रदेश की कानून व्यवस्था चिंताजनक है। लोग घरों में सुरक्षित नहीं हैं। घर से बेटी निकलती है तो मां-बाप सोचते हैं कि उनकी बेटी सुरक्षित लौटेगी या नहीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here