Home Politics गांधी दर्शन प्रशिक्षणार्थियों को सीएम गहलोत बोले- देश के मौजूदा माहौल में...

गांधी दर्शन प्रशिक्षणार्थियों को सीएम गहलोत बोले- देश के मौजूदा माहौल में गांधी के संदेशों का बहुत महत्व

97
0
गांधी दर्शन प्रशिक्षणार्थियों को सीएम गहलोत बोले- देश के मौजूदा माहौल में गांधी के संदेशों का बहुत महत्व (फाइल इमेज)

The Angle

जयपुर।

सीएम अशोक गहलोत ने जयपुर के बिड़ला सभागार में आयोजित गांधी दर्शन प्रशिक्षणार्थी सम्मेलन को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि देश के तनाव भरे माहौल में महात्मा गांधी जी के संदेशों का बड़ा महत्व है। उनके मूल्यों एवं सिद्धांतों पर चलकर ही शांति व अहिंसा की स्थापना संभव है। हमें इसी राह पर आगे बढ़ते हुए लोकतंत्र को अधिक मजबूत बनाना होगा और देश की प्रगति में अहम भूमिका निभानी होगी। उन्होंने कहा कि सम्मेलन के जरिए हर व्यक्ति को प्रशिक्षण देने का कारवां अब नहीं रुकना चाहिए। उन्होंने कहा कि गांधी दर्शन प्रशिक्षणार्थी ही राजस्थान की सबसे बड़ी पूंजी हैं। ये प्रशिक्षणार्थी राजस्थान के विकास में मील का पत्थर साबित होंगे।

सीएम गहलोत बोले- हर व्यक्ति को पढ़नी चाहिए महात्मा गांधी की जीवनी

गहलोत ने कहा कि शांति और अहिंसा से ही समाज में आपसी प्रेम, सद्भाव और भाईचारा कायम रह सकता है। यही हमारी संस्कृति का मूल आधार भी है। उन्होंने कहा कि युवा पीढ़ी को गांधीजी के विचारों से जुड़ना चाहिए। गांधीजी की जीवनी ‘सत्य के प्रयोग’ का अध्ययन हर व्यक्ति को अवश्य करना चाहिए। उन्होंने कहा कि विश्व के कई देशों में तनावपूर्ण माहौल है, लेकिन भारतीय संविधान में गांधीजी की भावना निहित होने से भारत आज भी अखंड और मजबूत है। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी के संदेश घर-घर में पहुंचाने की दिशा में देश में पहली बार राजस्थान में शांति एवं अहिंसा विभाग खोला गया। विभाग द्वारा गांधी दर्शन प्रशिक्षण और जागरूकता अभियान चलाकर युवाओं को गांधीजी के सिद्धांतों से अवगत कराया जा रहा है। इन्हीं का नतीजा है कि आज युवा वर्ग गांधीजी के बताए रास्ते पर आगे बढ़ा है।

गांधी वाटिका न्यास, जयपुर विधेयक-2023 विधानसभा में हो चुका पारित

मुख्यमंत्री ने बिड़ला सभागार में मौजूद प्रशिक्षणार्थियों को बताया कि इसी कड़ी में गहलोत सरकार महात्मा गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ गवर्नेंस एंड सोशल साइंसेज और जिला शांति एवं अहिंसा प्रकोष्ठ को आगे बढ़ा रही है। हाल ही विधानसभा में गांधी वाटिका न्यास, जयपुर विधेयक-2023 पारित हुआ। इसके जरिए भी गांधी के सिद्धांतों को आगे बढ़ाएंगे। उन्होंने सभी प्रशिक्षणार्थियों से कहा कि वे गांधी दर्शन के साथ-साथ जनकल्याणकारी योजनाओं को हर घर में पहुंचाएं। इससे पात्र और वंचितों को लाभ सुनिश्चित हो सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here