Home Politics कांग्रेस की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में गहलोत,डोटासरा,और रंधावा ने दिये जीत...

कांग्रेस की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में गहलोत,डोटासरा,और रंधावा ने दिये जीत के मंत्र !

101
0
कांग्रेस कार्यकारिणी बैठक (फाइल फोटो)

 राजस्थान विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी और कांग्रेस दोनों प्रमुख पार्टियां तैयारियों में जुटी हुई हैं. विधानसभा चुनाव को देखते हुए कांग्रेस पार्टी के संगठन के नेता प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा के नेतृत्व में सरकार रिपीट करवाने को लेकर कड़ी मेहनत कर रही है. इसी कड़ी में आज प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में नवनियुक्त प्रदेश पदाधिकारियों और जिला अध्यक्षों की बैठक आयोजित की गई है.इसमें प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रभारी सुखजिंदर रंधावा ने पदाधिकारियों और जिला अध्यक्षों को सरकार रिपीट करने को लेकर महत्वपूर्ण सुझाव दिए हैं और उनको खरी-खरी बातें सुनाई हैं.

कांग्रेस प्रभारी रंधावा की दो टूक

कांग्रेस प्रदेश प्रभारी सुखजिंदर रंधावा ने कहा कि कांग्रेस है तो ही आप जिंदा हैं नहीं तो आपको कौन पूछेगा? आगे कहा कि सरकार बनेगी तभी आपकी पूछ है. जो कांग्रेस की बात नहीं करता, उसके लिए दरवाजे खुले हैं, वो खुशी-खुशी जा सकता है.इस मीटिंग में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा ने पदाधिकारियों और जिला अध्यक्षों को कड़ा संदेश दिया है. उन्होंने कहा कि जो पदाधिकारी काम करेगा उसको इनाम मिलेगा. डोटासरा ने मीटिंग को संबोधित करते हुए कहा कि आलाकमान ने अब पदाधिकारियों की नियुक्ति कर दी है. संगठन में नियुक्तियां होने से अब सभी को आपस में एकजुटता रखते हुए सरकार रिपीट करने के लिए काम करना होगा.

कांग्रेस की कार्यकारिणी को गहलोत ने किया संबोधित

पीसीसी की नई कार्यकारिणी को आज सीएम असोक गहलोत गहलोत ने भी वर्चुअल संबोधित किया.इस दौरान सीएम गहलोत ने पदाधिकारियों को कहा कि आप लोगों को धैर्य रखना चाहिए.सोनिया गांधी भी धैर्य रखनी की बात कहती रही है ,सब व्यक्तियों को सब पद नही मिल सकते है .सबकों विधायक नही बनाया जा सकता है .आप लोगो को अब जिम्मेदारी मिल गई है .कई बार लोग काम दो काम दो तो कहते रहते है लेकिन जब काम मिल जाता है तो काम करने वाले बहुत कम रह जाते है .

डोटासरा का अपने मंत्रियों पर तंज

प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में गोविंद सिंह डोटासरा ने इशारों में कुछ मंत्रियों पर बीजेपी से दोस्ती निभाने का तंज कसकर सियासी चर्चाएं छेड़ दी हैं। डोटासरा ने कहा कि हमारे कुछ लोग आरएसएस बीजेपी से दोस्ती निभाते हैं, मैं मानता हूं। मुझे पता है किसी बीजेपी के नेता के कहने से अफसर चेंज हो जाते हैं लेकिन कांग्रेस एमएलए और कार्यकर्ता के कहने पर नहीं होते। जब फील्ड में जाते हैं तो ये बातें हमें सुनने भी मिलती है। मैं कहना चाहता हूं कि हम संगठन के लोग हैं हम सब ने मिलकर सरकार बनाई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here