Home Farmers मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने किसानों के लिए राहत भरा फैसला लिया,अधिकारियों को...

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने किसानों के लिए राहत भरा फैसला लिया,अधिकारियों को तुरंत गिरदावरी के दिए निर्देश

80
0
बैठक (फाइल फोटो)

इस वर्ष राजस्थान में असामान्य बारिश हुई है .जिससे फसलों का काफी नुकसान हुआ है .किसानों के नुकसान को देखते हुए सीएम अशोक गहलोत ने बुधवार रात अहम बैठक की .इस बैठक में सीएम गहलोत ने किसानों को राहत देने के लिए आगामी 10 दिनों में गिरदावरी करवाकर किसानों को राहत देने के निर्देश दिये है .आपका बता दे चुनावों से पहले सीएम अशोक गहलोत तमाम तो राहत के कार्य और आमजन की मांग है उसे पूरा करने में जी जान से जुटे हुए है .इसी के चलते उन्होंने किसानों को भी राहत देने के लिए बैठक में अहम फैसला लिया.

गहलोत ने दिए राहत के निर्देश

सीएम ने इस बैठक में  फसल नुकसान, इनपुट सब्सिडी, फसल बीमा एवं गिरदावरी की समीक्षा ली. उन्होंने कहा कि खराब हुई फसलों का आंकलन कर प्रभावित किसानों को नियमानुसार मुआवजा देने के लिए गिरदावरी का काम जल्द से जल्द पूरा किया जाए. साथ ही, प्रभावित क्षेत्रों में फसलों की गिरदावरी अविलंब करवाकर फसलों के नुकसान की रिपोर्ट भिजवाने के भी निर्देश दिए. जिससे प्रभावित किसानों को तत्काल सहायता उपलब्ध करवाई जा सके

गहलोत ने फसलों के नुकसान पर जताई चिंता

मुख्यमंत्री ने बैठक में बारिश से हुई फसलों के खराबे को लेकर चिंता जताई.आपको बता दे हनुमानगढ़,गंगानगर जिले में कपास की फसल में गुलाबी सुण्डी कीट के प्रकोप से दोनों जिलों में 2 लाख 56 हजार हैक्टेयर क्षेत्र प्रभावित हुआ है .जिससे 73 हजार से अधिक कृषक प्रभावित हुए है .और ये नुकसान करीब 45 प्रतिशत तक बताया जा रहा है .इसी के चलते सीएम ने जल्द से जल्द खराबे की गिरदावरी 10 दिन में करवाने के निर्देश दिये है और जल्द से जल्द किसानों को फसलें के मुआवजे की बात भी कही है.

बैठक में आंकड़े भी पेश किये गए

इस बैठक में बारिश से हुई फसलों के खराब होने के आंकड़े भी पेश किए गए उसी आधार पर बैठक में किसानों के हितों को देखते हुए राहत भरे फैसले लिए गए.आपको बता दे इस बैठक में कृषि मंत्री लालचंद कटारिया,सहित विभागीय अधिकारी भी मौजूद रहे.सीएम ने अधिकारियों से रिपोर्ट के आधार पर आंकड़े लिए और फिर राहत देने के निर्देश दिये

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here