Home Education कंपीटिशन एग्जाम की तैयारी कर रहे युवाओं के लिए अच्छी खबर

कंपीटिशन एग्जाम की तैयारी कर रहे युवाओं के लिए अच्छी खबर

117
0
कंपीटिशन एग्जाम की तैयारी कर रहे युवाओं के लिए अच्छी खबर (फाइल इमेज)

The Angle

जयपुर।

राजस्थान में सरकारी नौकरी के लिए कंपीटिशन एग्जाम की तैयार कर रहे युवाओं के लिए अच्छी खबर है। मुख्यमंत्री की बजट घोषणा के मुताबिक अब ऐसे अभ्यर्थियों को विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए बार-बार फीस नहीं चुकानी होगी, बल्कि एक बार फीस देकर अपना वनटाइम रजिस्ट्रेशन करवा सकेंगे। इस रजिस्ट्रेशन फीस को जमा करवाने के बाद अभ्यर्थी राज्य सरकार के डिपार्टमेंट में निकली तमाम भर्तियों के एग्जाम को उनकी योग्यता (आयु, क्वालिफिकेशन) के अनुसार दे सकेंगे। अभ्यर्थी सभी भर्ती परीक्षाएं इस रजिस्ट्रेशन के बाद निःशुल्क दे सकेंगे। गौरतलब है कि यह योजना केवल राजस्थान के मूलनिवासी अभ्यर्थियों के लिए होगी, अन्य राज्यों से आने वाले अभ्यर्थियों को निर्धारित फीस देनी होगी।

वन टाइम रजिस्ट्रेशन के जरिए बार-बार फीस देने के झंझट से मिलेगी राहत

कार्मिक विभाग ने इस संबंध में एक सर्कुलर जारी किया है। इसमें जनरल कैटेगरी के अभ्यर्थियों से 600 रुपए, सभी तरह के आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों से 400 और दिव्यांगजनों से 400 रुपए वन टाइम रजिस्ट्रेशन फीस ली जाएगी। इसके लिए सभी अभ्यर्थियों को अपनी अलग-अलग SSO आईडी जेनरेट करनी पड़ेगी।

प्रदेश में हर साल करीब 30 लाख से ज्यादा अभ्यर्थी हर साल देते हैं कंपीटिशन एग्जाम

राजस्थान में हर साल 30 लाख से ज्यादा अभ्यर्थी कंपीटिशन एग्जाम देते है। इसमें सबसे ज्यादा अभ्यर्थी टीचर, पुलिस, ग्राम विकास अधिकारी समेत अन्य विभागों में परीक्षा की तैयारी करते हैं क्योंकि इनमें बड़ी संख्या में एक साथ भर्ती निकाली जाती है। ये भर्ती ज्यादातर कर्मचारी चयन बोर्ड और आरपीएससी के माध्यम से की जाती हैं। अभी हर अभ्यर्थी को हर एग्जाम के लिए अलग-अलग फीस देनी पड़ती है।

सीएम गहलोत ने 2023-24 के बजट में की थी अभ्यर्थियों को राहत देने की घोषणा

वित्त वर्ष 2023-24 के बजट में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेश के युवाओं को राहत देने के लिए ये घोषणा की थी। हालांकि इसके पीछे मुख्य कारण आगामी विधानसभा चुनाव और बार-बार लीक हो रहे पेपर को माना जाता है। चुनाव में बेरोजगार युवाओं को रिझाने के लिए सरकार ने ये बड़ा फैसला लिया है। इसके साथ ही पेपर लीक से अभ्यर्थियों को होने वाले आर्थिक नुकसान को देखते हुए भी ये फैसला किया गया है। बता दें राज्य सरकार ने इससे पहले सभी अभ्यर्थियों के लिए रोडवेज की बसों में फ्री यात्रा की सुविधा शुरू की थी। कंपीटिशन एग्जाम देने वाले अभ्यर्थियों के लिए रोडवेज बसों में घर से एग्जाम सेंटर तक आने-जाने के लिए कोई किराया नहीं लिया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here