Home National दिल्ली में स्वतंत्रा दिवस समारोह में शामिल नहीं हुए मल्लिकार्जुन खड़गे, ट्विटर...

दिल्ली में स्वतंत्रा दिवस समारोह में शामिल नहीं हुए मल्लिकार्जुन खड़गे, ट्विटर पर दिया जोरदार जवाब

94
0
दिल्ली में स्वतंत्रा दिवस समारोह में शामिल नहीं हुए मल्लिकार्जुन खड़गे, ट्विटर पर दिया जोरदार जवाब

The Angle

नई दिल्ली।

दिल्ली के लाल किला परिसर में स्वतंत्रता दिवस का राष्ट्र स्तरीय कार्यक्रम समारोहपूर्वक संपन्न हुआ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले के प्राचीर से तिरंगा फहराया और देशवासियों को संबोधित किया। इस कार्यक्रम में कई दिग्गज और करीब 2 हजार अतिथि शामिल हुए। लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे की कुर्सी इस समारोह के दौरान खाली दिखी। खड़गे इस समारोह में शिरकत नहीं कर सके। बाद में कहा गया कि आंख और सुरक्षा कारणों से खड़गे लाल किला नहीं गए।

घर और कांग्रेस पार्टी दफ्तर पर फहराना था खड़गे को तिरंगा, इसलिए नहीं हो सके कार्यक्रम में शामिल- कांग्रेस

वहीं कांग्रेस की तरफ से मामले पर स्पष्ट करते हुए बताया गया कि खड़गे को अपने घर और कांग्रेस पार्टी दफ्तर में तिरंगा फहराना था। इसलिए वे लाल किला में होने वाले समारोह में शामिल नहीं हो पाए। अगर वे जाते तो वह घर वहां से जल्दी नहीं निकल सकते थे। उन्हें कम से कम 2 घंटे तक वहां पर रहना ही पड़ता, वे कांग्रेस मुख्यालय में समय से ध्वजारोहण नहीं कर पाते। आगे कहा गया कि वे शाम को राष्ट्रपति आवास में मौजूद रहेंगे।

मल्लिकार्जुन खड़गे ने पीएम मोदी के बयान पर दिया जवाब

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने पीएम मोदी के ‘अगले 15 अगस्त को इसी लाल किले से देश की उपलब्धियां आपके सामने रखूंगा’ पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि वे अगले साल एक बार फिर राष्ट्रीय ध्वज फहराएंगे, वे ऐसा अपने घर पर करेंगे। इसके बाद कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्वीट के जरिए एक वीडियो संबोधन जारी किया। इसमें पीएम मोदी का नाम लिए बिना खड़गे ने कहा कि कुछ लोग ऐसा मानते हैं कि देश पिछले कुछ वर्षों में विकसित हुआ है। लेकिन यह सच नहीं है। जब अंग्रेज देश छोड़कर चले गए थे, तो स्थिति ऐसी थी कि देश में एक सुईं भी नहीं बनती थी। तब पंडित नेहरू ने बड़ी पहल की, इस्पात संयंत्र स्थापित किए, बांध बनाए, आईआईटी, आईआईएम, एम्स जैसे संस्थान स्थापित किए। इंदिरा गांधी-लाल बहादुर शास्त्री जैसे प्रधानमंत्री देश में हरित क्रांति लेकर आए और भारत को खाद्यान्न उत्पादन के मामले में आत्मनिर्भर बनाया।

कांग्रेस अध्यक्ष ने केंद्र सरकार पर लगाया विपक्ष की आवाज दबाने का आरोप

सरकार पर निशाना साधते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि जो लोकतंत्र का ढोल बजाते हैं, वे दूसरी तरफ विपक्ष का मुंह बंद कर देते हैं। आज लोकतंत्र को बहुत बड़ा खतरा है। संसद में विपक्ष की आवाज बंद कर दी जाती है, मेरा माइक बंद कर दिया जाता है। इससे पहले खड़गे ने ट्वीट कर देशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र और संविधान हमारी देश की आत्मा है। हम यह प्रण लेते हैं कि देश की एकता और अखंडता के लिए, प्रेम और भाईचारे के लिए, सौहार्द और सद्भाव के लिए लोकतंत्र और संविधान की स्वतंत्रता कायम रखेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here