Home National पीएम मोदी के आज के भाषण से तय होगा वसुंधरा राजे का...

पीएम मोदी के आज के भाषण से तय होगा वसुंधरा राजे का भविष्य !

123
0
पीएम मोदी के आज के भाषण से तय होगा वसुंधरा राजे का भविष्य ! (फाइल इमेज)

The Angle

जयपुर।

राजस्थान के विधानसभा चुनावों के मद्देनजर प्रदेश में भाजपा नेताओं के दौरे बढ़ते जा रहे हैं। पिछले दिनों केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी, पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय मंत्री अमित शाह जैसे न जाने कितने ही नेता प्रदेश का दौरा कर चुके हैं, वहीं अब खुद पीएम मोदी राजस्थान के दौरे पर आ रहे हैं। आज वे पहले बीकानेर में कई विकास कार्यों की सौगात प्रदेशवासियों को देंगे, वहीं इसके बाद एक राजनीतिक पब्लिक मीटिंग को भी संबोधित करेंगे। अब प्रधानमंत्री के इस दौरे को लेकर जितनी उत्सुकता प्रदेशवासियों में है, उससे कहीं ज्यादा खुद भाजपा के ही नेताओं में है और उसमें भी वसुंधरा राजे को है।

सीएम फेस के लिए जमीन तैयार करने में जुटी है भाजपा

जानकारों का मानना है कि भाजपा के तमाम नेताओं की नजरें पीएम मोदी के दौरे के दौरान उनके भाषण पर भी टिकी होंगी। ऐसा इसलिए क्योंकि एक तरफ तो भाजपा पार्टी में एकजुटता दिखाने की कोशिश में जुटी है, दूसरी तरफ सीएम फेस के लिए भी जमीन तैयार करने में जुटी है। इसी तरह भाजपा के प्रमुख नेताओं के राजस्थान दौरे के दौरान वसुंधरा राजे को मंच पर तो जगह दी गई, उनका भाषण भी करवाया गया, लेकिन अपने भाषणों में वसुंधरा सरकार की योजनाओं को भाजपा की उपलब्धि के रूप में नहीं गिनाया।

हां वसुंधरा राजे अकेली ऐसी नेता रहीं जिन्होंने अपनी सरकार की योजनाओं को मंच से गिनाने का काम किया।यही नहीं पीएम मोदी आज से पहले 6 बार राजस्थान का दौरा पिछले 9 महीनों में कर चुके हैं, लेकिन शायद ही अपने किसी भाषण में उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की योजनाओं का जिक्र किया हो। पीएम मोदी का अपने भाषणों में पूरा जोर केंद्र की सरकार की उपलब्धियां गिनाने, विपक्षी दलों और राज्य सरकार को घेरने पर रहता है।

पीएम मोदी के सरकारी कार्यक्रम और सियासी जनसभा का होगा अलग-अलग जगह आयोजन

ऐसे में आज भी सभी का ध्यान इस बात पर रहेगा कि पीएम मोदी अपने भाषणों में प्रदेश के नेताओं को कितनी अहमियत देते हैं। खास बात यह है कि पिछली कई बार की तरह इस बार भी सरकारी आयोजन को अलग रखा गया है, जबकि पीएम मोदी की आमसभा का आयोजन बीकानेर में ही दूसरी जगह पर किया गया है, ताकि राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार के खिलाफ जमकर हमला बोला जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here