Home Business एसबीआई जनरल इंश्योरेंस ने इस खरीफ सीजन में अपने 5वें फसल बीमा...

एसबीआई जनरल इंश्योरेंस ने इस खरीफ सीजन में अपने 5वें फसल बीमा सप्ताह जागरुकता अभियान की घोषणा की

236
0
एसबीआई जनरल इंश्योरेंस (FILE PHOTO)

06 जुलाई 2023

भारत की प्रमुख सामान्य बीमा कंपनियों में से एक, एसबीआई जनरल ने आगामी खरीफ सीजन के लिए 5वां ‘फसल बीमा सप्ताह’ जागरुकता अभियान शुरू किया। कंपनी पीएमएफबीवाई, इसके लाभ और इसकी प्रमुख विशेषताओं के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए आजादी का अमृत महोत्सव द्वारा समर्थित कृषक समुदाय के लिए बैठकें, कार्यशालाएं और प्रशिक्षण कार्यक्रम जैसी विभिन्न गतिविधियां आयोजित करेगी। इस पहल का उद्देश्य पीएमएफबीवाई योजना के तहत किसानों का नामांकन और पहुंच को बढ़ाना है।

एसबीआई जनरल इन राज्यों में लागू करेंगी

जागरूकता अभियान के तहत, SBI जनरल इन गतिविधियों को महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, कर्नाटक, ओडिशा और असम राज्यों में लागू करेगी। प्रत्येक निर्धारित राज्य के उच्च पदाधिकारी की उपस्थिति में हरी झंडी दिखाकर जागरूकता सप्ताह का शुभारंभ किया जाएगा। SBI जनरल इंश्योरेंस पीएमएफबीवाई योजना में भाग ले रही है और इसके पास देश के सभी क्षेत्रों के 16 राज्यों में इस योजना को लागू करने का व्यापक अनुभव है। इन वर्षों में, कंपनी ने किसानों को 7,816 करोड़ रुपये दावों का भुगतान किया है।

एसबीआई जनरल इंश्योरेंस एमडी ने दिया बड़ा मैसेज

SBI जनरल इंश्योरेंस के एमडी और सीईओ श्री किशोर कुमार पोलुदासु ने कहा, “जलवायु परिवर्तन कृषि के लिए एक महत्‍वपूर्ण खतरा है, जिसने किसानों को संवेदनशील बना दिया है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (पीएमएफबीवाई) एक उल्‍लेखनीय पहल है जो कृषि में जलवायु परिवर्तन से उत्पन्न चुनौतियों का समाधान करती है। इस योजना में भाग लेकर, किसान जलवायु परिवर्तन से जुड़े जोखिमों को कम करने के साथ ही स्‍थायी कृषि पद्धतियों पर फोकस कर सकते हैं।

कृषक समुदाय का समर्थन और सुरक्षा करने के लिए तैयार

किशोर कुमार पोलुदासु ने कहा कि हम अपनी प्रक्रियाओं में लगातार सुधार कर और प्रौद्योगिकी-आधारित समाधान पेश करके कृषक समुदाय का समर्थन और सुरक्षा करने के लिए तैयार हैं, जिससे किसानों को आसान पहुंच और तात्कालिक रिस्‍पॉन्‍स टाइम मिल सकेगा। हम किसानों से स्वयं को अनिश्चितताओं से बचाने और जलवायु संबंधी चुनौतियों के बावजूद भी अपनी कृषि गतिविधियों की निरंतरता सुनिश्चित करने के लिए पीएमएफबीवाई में नामांकन करने का आग्रह करते हैं।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here