Home Crime धरियावद में महिला को निर्वस्त्र कर घुमाने का मामला, सभी आरोपी गिरफ्तार,...

धरियावद में महिला को निर्वस्त्र कर घुमाने का मामला, सभी आरोपी गिरफ्तार, सीएम गहलोत करेंगे पीड़िता से मुलाकात

105
0
धरियावद में महिला को निर्वस्त्र कर घुमाने का मामला, सभी आरोपी गिरफ्तार, सीएम गहलोत करेंगे पीड़िता से मुलाकात

The Angle

प्रतापगढ़ जिले के धरियावद थाना क्षेत्र में हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां पर एक गर्भवती महिला को निर्वस्त्र कर गांव में घुमाया गया है। महिला को निर्वस्त्र किए जाने का भी वीडियो सामने आया है, जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। मामला 31 अगस्त का बताया जा रहा है। वहीं इस पूरे प्रकरण में अब पुलिस ने आरोपी पति सहित घटना को अंजाम देने में लिप्त सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। मामले में एसपी अमित कुमार के निर्देशन में कार्रवाई जारी है। वहीं मामला सामने आते ही सीएम अशोक गहलोत के निर्देश पर एडीजी क्राइम दिनेश एमएन भी धरियावद पहुंचे। यहां आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में जानकारी देते हुए बताया कि सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि पीड़ित महिला को सरकारी सहायता दिलवाने के प्रयास किए जा रहे हैं।

सीएम गहलोत बोले- फास्टट्रैक कोर्ट में केस चलाकर आरोपियों को दिलाई जाएगी सख्त सजा

इस पूरे प्रकरण में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत काफी गंभीर और संवेदनशील नजर आ रहे हैं। अपना पूर्व प्रस्तावित कार्यक्रम स्थगित कर सीएम गहलोत भीलवाड़ा से धरियावद के लिए रवाना हो गए हैं। यहां वे पीड़ित महिला से मुलाकात करेंगे। वहीं इससे पहले उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा कि प्रतापगढ़ जिले में पीहर और ससुराल पक्ष के आपसी पारिवारिक विवाद में ससुराल पक्ष के लोगों द्वारा एक महिला को निर्वस्त्र करने का एक वीडियो सामने आया है। एडीजी क्राइम को मौके पर भेजने और इस मामले में कड़ी से कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। सभ्य समाज में इस तरह के अपराधियों की कोई जगह नहीं है। इन अपराधियों को जल्द से जल्द सलाखों के पीछे डालकर फास्ट ट्रैक कोर्ट में मुकदमा चलाकर सजा दिलवाई जाएगी।

जेपी नड्डा बोले- राजस्थान में पूरी तरह नजरअंदाज किया जा रहा महिला सुरक्षा का मुद्दा

उधर इस पूरे मामले पर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कांग्रेस सरकार पर कड़ा प्रहार किया। उन्होंने ट्वीट किया कि राजस्थान के प्रतापगढ़ का वीडियो चौंकाने वाला है। इससे भी बुरी बात यह है कि राजस्थान में शासन व्यवस्था पूरी तरह से नदारद है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री और मंत्री गुटीय झगड़ों को निपटाने में व्यस्त हैं और बचा हुआ समय दिल्ली में एक राजवंश को खुश करने में व्यतीत हो रहा है। इसमें कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि राज्य में महिला सुरक्षा के मुद्दे को पूरी तरह से नजरअंदाज किया जा रहा है। आए दिन महिलाओं के खिलाफ उत्पीड़न की कोई न कोई घटना सामने आती रहती है। राजस्थान की जनता राज्य सरकार को सबक सिखाएगी।

धरियावद पीड़िता का करवाया जाएगा मेडिकल

इससे पहले देर रात अपनी मां के साथ पीड़िता की ओर से धरियावद थाने में प्रकरण दर्ज करवाया गया। पीड़िता ने पति सहित 10 नामजद और अन्य के खिलाफ प्रकरण दर्ज करवाया था। पुलिस ने महिला के बयान पर विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज किया। वहीं पीड़िता का मेडिकल करवाने के लिए भी ले जाया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here