Home National राहुल गांधी ने अविश्वास प्रस्ताव पर रखी अपनी बात, पीएम मोदी के...

राहुल गांधी ने अविश्वास प्रस्ताव पर रखी अपनी बात, पीएम मोदी के मणिपुर नहीं जाने पर सवाल उठाए

113
0
राहुल गांधी ने अविश्वास प्रस्ताव पर रखी अपनी बात, पीएम मोदी के मणिपुर नहीं जाने पर सवाल उठाए

The Angle

नई दिल्ली।

लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर विपक्ष की ओर से राहुल गांधी ने चर्चा की शुरुआत की। अपने भाषण की शुरुआत में राहुल गांधी ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला से माफी मांगी। उन्होंने कहा कि पिछली बार सदन में अडानी पर फोकस करने की वजह से आपके सीनियर नेता को कष्ट हुआ और उससे आप को भी कष्ट हुआ। इसलिए मैं आपसे माफी मांगता हूं। उन्होंने कहा कि आज में अडानी पर चर्चा नहीं करूंगा। आज में दिमाग से नहीं, बल्कि दिल से बोलना चाहता हूं और मैं आज आप लोगों पर हमलावर नहीं रहूंगा… रिलैक्स कर सकते हैं।

उन्होंने कहा कि अपनी भारत जोड़ो यात्रा के दौरान मुझे जो शारीरिक कष्ट होने लगा, उससे मेरा अहंकार खत्म हो गया। मैंने जिस अहंकार के साथ भारत जोड़ो यात्रा शुरू की थी, वो खत्म होने लगा था। तभी एक छोटी बच्ची आकर अपनी चिट्ठी मुझे दी, जिसमें लिखा था कि तुम चलो मैं तुम्हारे साथ हूं।

किसानों के दर्द को लेकर भी रखी बात

वहीं यात्रा के दौरान किसानों से मुलाकात का जिक्र करते हुए राहुल ने कहा कि एक दिन मेरे पास किसान आया, हाथ में रूई थी। किसान ने मुझे रूई का बंडल मेरे हाथ में दिया और कहा कि यही मेरे हाथ में बचा है। मैंने जब उससे बीमा का हाथ पूछा तो, उसने कहा कि नहीं राहुल जी, मुझे बीमा का पैसा नहीं मिला। भारत के बड़े उद्योगपतियों ने वो मुझसे छीन लिया। किसान के दिल का दर्द, मेरे दिल में आया।

भारत जोड़ो यात्रा के दौरान के अनुभव सदन में सुनाए

इसी तरह राहुल गांधी ने मणिपुर हिंसा की बात करते हुए कहा कि मैं मणिपुर गया, लेकिन आज तक पीएम नरेंद्र मोदी नहीं गए… क्योंकि उनके लिए मणिपुर हिंदुस्तान नहीं है। मैंने मणिपुर शब्द प्रयोग किया, लेकिन आज की सच्चाई ये है कि मणिपुर नहीं बचा है। मणिपुर को आपने 2 भाग में बांट दिया है। वहां की राहत शिविरों में जाकर महिलाओं से बात की। महिला से पूछा कि क्या हुआ तुम्हारे साथ। उसने कहा कि मेरा छोटा सा बेटा, एक ही बेटा था। मेरे आंखों के सामने उसको गोली मारी गई। मैं पूरी रात उसकी लाश के साथ लेटी रही। फिर मुझे डर लगा, मैंने अपना घर छोड़ दिया।

मैंने पूछा कि कुछ तो लाई होगी। उसने कहा कि मेरे पास सिर्फ मेरे कपड़े हैं और एक फोटो निकालती है, कहती है कि यही बस मेरे पास बची है। उन्होंने कहा कि इन्होंने मणिपुर में हिंदुस्तान की हत्या की है। इन्होंने मणिपुर में हिंदुस्तान को मारा है. हिंदुस्तान का मणिपुर में कत्ल किया है, मर्डर किया है।

राहुल गांधी बोले- प्रधानमंत्री मणिपुर नहीं जा सकते

राहुल के इस बयान पर सत्तापक्ष ने हंगामा शुरू कर दिया। राहुल के इस बयान पर केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू ने हमला बोला। उन्होंने कहा कि मणिपुर में 7 दशक में जो हुआ, उसके लिए कांग्रेस जिम्मेदार है। राहुल को इसके लिए माफी मांगनी चाहिए। राहुल ने कहा आपने मणिपुर के लोगों को मार भारत माता की हत्या की… देश की हत्या की… आप लोग देशभक्त नहीं हैं। इसलिए प्रधानमंत्री मणिपुर नहीं जा सकते हैं। मणिपुर में देश की हत्या की है… मणिपुर की हत्या की है… आप भारत के रखवाले नहीं बल्कि हत्यारे हो।

उन्होंने कहा कि रावण 2 लोगों की सुनता था, मेघनाथ और कुंभकर्ण, वैसे ही नरेंद्र मोदी 2 लोगों की सुनते हैं- अमित शाह और अडानी। लंका को हनुमान ने नहीं जलाया था, रावण के अहंकार ने लंका को जलाया था। राम ने रावण को नहीं मारा था, रावण के अहंकार ने उसे मारा था। आप पूरे देश में केरोसिन फेंक रहे हो। आपने मणिपुर में केरोसिन फेंकी और चिंगारी लगा दी। अब पूरे हरियाणा को जला रहे हो. आप पूरे देश को जलाने में लगे हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here